/ / मेरी मम्मी ओर पडोस के भैया
Aunty Sex Story Bhabhi Sex Story Couple Sex Story Desi Sex Story Family Sex Story First Time Sex Story Girlfriend Sex Story Hindi Sex Story Maa Beta Sex Story Porn Story Romantic Sex Story XXX Story

मेरी मम्मी ओर पडोस के भैया

जैसा की आपने पढा मम्मी ने मामी के साथ लिस्बन सैक्स कीया ओर ब्लु फिल्म देखकर मम्मी ने मन मे अब अपनी गांड की सील खुलवाने का सोच लिया था। मम्मी अब पूरे सैक्स का मजा लेना चाहती थी मतलब मम्मी अब सभी पोजीशन ओर सभी तरीके से सैक्स करना चाह रही थी, यहा तक की वो अब ग्रुप सैक्स भी करना चाहती थी।

सभी पाठको को मेरा प्यार भरा नमस्कार कैसे है आप सभी उम्मीद है आप कोरोना महामारी से बचे हुए होगे अब तक लोकडाऊन का पालन करे ओर मेरी मम्मी ओर मेरे पडोस के भैया सेक्स कहानी पढककर उपर का दवाब नीचे लाकर बचे रहै।

मेरी ये वाली Hindi Sex Story मेरी माँ की अन्तर्वासना – एक सेक्सी आत्मकथा🔥💜 का 13 भाग है, पिझले भाग इसी नाम से मौजूद है वेबसाइट पर उन्हें भी पढ़ लेना। अगर नहीं पढ़ी है अब तक तो तुम एक ऐतिहासिक आत्मकथा से अनजान हो रहे हो। अब अपनी कहानी पर आते हैं।

💙 इस कहानी पिझला भाग – मेरी सेक्सी मम्मी ओर रंगीन मामी

मगर ग्रुप सेक्स के लिए उन्हे थोडा लंबा इंतजार करना पडेगा अभी खैर मम्मी आज सुबह देर से उठी ओर हमे स्कुल भेजकर चाय बनाकर पापा को दी पापा चाय पीकर दुकान चले गये। मम्मी का आज काम करने का मन नही कर रहा था वो आज दुविधा मे थी वो रवि के साथ आज सब कुछ करना चाह रही थी।

मगर वो ये सब रवि के साथ अपने घर पर रात मे करना चाहती थी इसलिए वो दुविधा मे फंसी थी खैर मम्मी ने घडी देखी तो 10 बजने वाले थे तो मम्मी छत पर चली गयी ओर रवि का इंतजार करने लगी। उधर रवि भी छत पर आ गया था उसे भी हफ्ता हो गया था इंतजार करते हुए मम्मी को देखते ही रवि ने मम्मी को हाथ हिलाकर हाय कीया, तो मम्मी ने भी मुस्कराकर रवि को हाय कहा, रवि अब दिवार के पास आ गया ओर मम्मी भी रवि के नजदीक ही थी। 

दोनो एक दूसरे को देखने लगे तभी, 

मम्मी ने रवि से पूछा – केसे हो याद किया की नही 

तो रवि कहने लगा – रात को बारह बजे तक छत पर था ओर सुबह मम्मी पापा के जाते ही आ गया बिना चाय पीये ही, बैठा हू दो घंटे से आपके इंतजार मे! 

तो मम्मी ने कहा – फिर खडे खडे टाइम क्यो खराब कर रहै हो आ जाओ, मेरी चुत भी मचल रही है जान! 

इतना सुनते ही रवि दिवार कूदकर छत पर आ गया ओर कमरा खोलकर अंदर चला गया मम्मी के कमरे मे आते ही रवि ने मम्मी को कसकर गले लगा लिया, ओर मम्मी को ताबडतोड कीस करने लगा। मम्मी ने भी रवि के बदन पर कीस की बोछार कर दी दोनो ऐसे मिल रहै थे जैसे बरसो बाद मिले हो करीब दस मिनट एक दूसरे को चुमते रहै। 

दोनो इस बीच मम्मी ने कहा रवि संभालो मे तो गयी इतना सुनते ही रवि ने गाऊन उतार दिया मम्मी ब्रा ओर पेटी खोलकर ही उपर आई थी। रवि ने नीचे बैठकर मम्मी की चुत को मुह मे भर लिया ओर चुमने लगा रवि के होठो के जादू से मम्मी झडने लगी। आज मम्मी ने इतना रस निकाला रवि का मुह ही भर गया मम्मी की चुदास भडक गयी ओर, 

मम्मी ने रवि को कहा – रवि पहले आज चोद दे यार, रहा नही जाता… 

ये सुनकर रवि ने अपने कपडे खोले ओर मम्मी को फर्श पर डोगी स्टाइल मे सुला दिया ओर घुटनो के बल बैठकर मम्मी की चुत मे अपना लंड घुसेड दिया, दो झटके मे रवि का लंड मम्मी की चुत मै समा गया। 

तभी मम्मी ने रवि से कहा – जान एकबार हिलना मत बस यूही ही पडे रहने दो लंड को 

तो रवि ने कहना मानते हुए मम्मी के उपर झुककर मम्मी के दूध को दबाने लगा, दो मिनट के बाद चुत की आग कुछ कम हुई तो मम्मी ने रवि को झटके मारने को कहा तो रवि भैया अब जोर से चुत मे झटके मारने लगे। मम्मी भी लेटी लेटी जोर से 

चिल्लाने लगी – आ आ आ आ अहह अम्म आह रवि जोर से ओर जोर से, रवि पूरा डाल दे, इस चुत की गर्मी को मिटा दे… मेरी जान… आह ओर जोर से!!!! 

रवि भी मम्मी की आहे सुनकर जोश मे आ गया ओर गांड पर थप्पड मारकर स्पीड से मम्मी की चुत को चोदने लगा, करीब 15 मिनट के बाद मम्मी का जिस्म अकडने ओर, 

रवि को कहने लगी – रवि मेरी जान मे आ रही हू 

तभी रवि फर्श पर लेट गया ओर मम्मी को चुत अपने मुह पर लाने को कहा मम्मी ने झट से अपनी चुत को रवि के मुह मे ठुस दिया ओर रवि जोर से मम्मी की चुत चाटने लगा। तभी मम्मी की चुत से कामरस का फव्वारा छुट गया ओर रवि सारा कामरस पी गया अब मम्मी के बदन मे कुछ आराम आया तो रवि ने बैठकर मम्मी को अपनी गोद मे ही बैठने को कहा, तो मम्मी ने अपने हाथ से लंड को पकडकर चुत पर रखा ओर पूरा लंड अपनी चुत मे ले लिया

रवि अब मम्मी के होठो को चुसने लगा ओर जोर से मम्मी के दूध को दबाने लगा मम्मी भी रवि के लंड पर जोर जोर से उछल रही थी मम्मी की चुत से अब फचाफच की आवाजे निकलने लगी ये दोर भी करीब 15 मिनट चला आधा घंटे की जोरदार चुदाई के बाद मम्मी ओर रवि एक साथ झड़ गये। 

रवि फर्श पर लेट गया ओर मम्मी रवि के उपर ही लेट गयी दो मिनट बाद रवि का लंड मुरझाकर चुत से निकल गया चुत से लंड निकलते ही मम्मी की चुत से वीर्य ओर मम्मी का कामरस बाहर निकलने लगा। ये मिक्स  रस रवि के पेट आने लगा तो रवि ने मम्मी को खडा होने को कहा मम्मी के खडे होते ही रवि बैठकर अपनी उंगली से रस को समेटने लगा ओर चाटने लगा। 

फिर एक उंगली भरकर मम्मी की तरफ की तो मम्मी ने अपना मुह खोलकर उंगली चाट ली रवि की इस तरह चुदाई करवाकर मम्मी ओर रवि नीचे आ गये मम्मी ने नहाकर खाना बनाया ओर सफाई की दोपहर मे मम्मी ने रवि को आज अपने घर पर ही बुला लिया था। 

रवि भैया भी खाना खाकर ठीक दो बजे घर के बाहर आ गये ओर डोरबैल बजा दी मम्मी ने कहा कोन है तो रवि ने कहा भाभी रवि तो मम्मी ने गेट खुला है आ जाओ रवि अंदर आया तो मम्मी ने गेट लॉक करने का कह दिया ओर रवि भैया गेट लॉक कर के अंदर आ गये। 

दोपहर के राऊड के लिए आज रवि हमारे घर आया अब आगे रवि को मम्मी ने बेड पर बैठने को कहा ओर रवि के लिए पानी लेने चली गयी ओर रवि को पानी दे दिया ओर बेड पर रवि की जाघो पर सर रखकर लेट गयी रवि मम्मी के बालो मे हाथ घुमाने लगा मम्मी की एक बात मुझे बहुत अच्छी लगती है। वो सिर्फ अपनी चुदाई से मतलब रखती है बस ओर उन्हे प्यार व्यार का नाटक नही पसंद है। 

मम्मी का एक ओर रिकॉर्ड भी है मम्मी ने आजतक हमारे यहा जितने भी ड्राइवर आए सबसे दबाकर सैक्स कीया है बस अब जो एक रामसिंह काका जिनकी उम्र 55 की है उनको छोड़कर खैर चलो अब मेरी मम्मी की Desi Sex Kahani पर चलते है। 

रवि ने मम्मी को पूछा – भाभी तबीयत ठीक है 

तो मम्मी ने कहा – हा बिलकुल रवि क्यो 

तो रवि ने कहा – आज थोडी सुस्त लग रही है 

तो कहने लगी – जब तुम्हारा लंड चुत मे जाएगा तो सुस्ती गायब हो जाएगी ओर हंसने लगी 

रवि ने भी एक हाथ से मम्मी की चूची को दबा दिया जोर से ओर मम्मी के मुह से सी की आवाज निकल गयी तभी मम्मी खडी हो गयी ओर रवि को दो मिनट रूकने को कहा ओर उपर कमरे मे चली गयी ओर रवि की दी Antarvasna Sex Story की किताबे ले आई ओर, 

रवि से कहा – रवि इन्हे ले जाना प्लीज, रोहित के पापा के हाथ लग गयी तो मुसीबत हो जाएगी 

ये सुनकर रवि भैया ने कहा – भाभी पढी थी या लाकर ही रख दी?! 

तो मम्मी ने कहा – रवि समय ही नही मिला 

तो रवि ने मम्मी को खींचकर अपनी जाघो पर बैठा लिया ओर कहा – अब साथ मै ही पढते है दोनो 

तभी रवि मम्मी को किताब खोलकर दिखाने लगा ओर सारी पोजीशन समझाने लगा ओर, 

पूछने लगा – भाभी आपने कीस कीस पोजीशन मै कीया है 

तो मम्मी ने कहा – पोजीशन तो तुम बदलते ही रहते हो रवि मुझे नही पता ये सब 

तो रवि ने लंड चुस रही लडकी की फोटो दिखाई, 

ओर कहा – भाभी ये पोजीशन कर लो कभी ओर हंसने लगा 

फिर रवि ने गांड चुदाई की फोटो दिखाई, ओर कहा – भाभी ये पोजीशन भी बाकी है 

अपनी मम्मी ने कहा – तुम्हे तो बस ये दो ही दिखते है बाकी करते है वो नही 

ये सुनकर कहा – भाभी इसमे इनसे ज्यादा मजा ना आए तो कभी मत करना मगर एक बार कर के तो देखो 

मम्मी ने एकबार फिर रवि को साफ मना कर दिया 🙅‍♀️

तो रवि ने कहा – चलो भाभी जो करते है वो तो कर ले ओर हंसने लगा 

ये सुनकर मम्मी ने रवि के होठो पर होठ रख दिये ओर किस करने लगी, रवि मम्मी की चुचियो को दबाते हुए होठो को किस करने लगा। इधर रवि का लंड पजामे मे खडा हो गया ओर मम्मी की गांड मे घुसने लगा तो, 

मम्मी हंसते हुए कहने लगी – इसको भी गांड मे जाने की बहुत जल्दी है 

रवि ने कहा – देर सवेर कभी तो सेर करेगा ही मेरा शेर 

ओर फिर किस करने लगा रवि ने मम्मी की टीशर्ट उतार दी ओर ब्रा खोलकर अपनी टीशर्ट ओर बनियान भी खोल दी ओर गले लगकर गर्दन को चुमने लगा। रवि ने किस करते हुए ही मम्मी को बेड पर लेटा दिया ओर पजामे को उतारने लगा मम्मी ने अपनी गांड उठा दी जिससे रवि ने एक झटके मे ही पजामा खोलकर पेटी उतारकर मम्मी की टांगो को फैलाकर अपना मुह चुत पर लगाकर चुत चाटने लगा चुत चुसाई शुरू होते ही मम्मी आहे! भरने लगी। 

ओर अपनी चूचीयो को दबाकर – हाय रवि रवि जोर से चुसो ना कर – के चिल्लाने लगी, रवि ने अपनी जीभ की गति बढा दी जोश मे आकर पांच मिनट के बाद मम्मी की चुत का रस निकलने को हो गया। 

तो मम्मी ने अपनी जाघो से रवि भैया के सर को जकड दिया ओर अपने दोनो हाथो से रवि के सर को अपनी चुत पर दबाकर अपना कामरस रवि के मुह मे भर दिया रवि भैया सारा रस चाटकर मम्मी के ऊपर आ गये ओर कीस करने लगे।

कुछ देर बाद मम्मी रवि के पजामे मे हाथ डालकर रवि के गर्म लंड को पकडकर सहलाने लगी ओर गर्म गर्म सासे रवि के मुह पर मारने लगी रवि को पता लग गया अब लंड डालने का समय आ गया है तो रवि भैया ने मम्मी की गांड के नीचे दो तकिये लगाए ओर घुटने के बल बैठकर उनके पेरो को उठा लिया। 

ओर अपना लंड चुत पर सेट करके एक झटके चुत मे आधा लंड ठुस दिया दूसरे झटके मे पूरा लंड डालकर रवि ने मम्मी के टागो को उनके सर के बराबर कर दिया ओर उपर झुककर चुदाई करने लगे। इस पोजीशन मे मम्मी की बच्चेदानी पर रवि भैया का लंड लगने लगा ओर, 

मम्मी जोर जोर से चिल्लाने लगी – रवि जोर से चोद ना लगा दे सारा जोर ओर अंदर तक डाल दे ना रवि ओर जोर से 

कहकर रवि को उत्तेजित करने लगी, रवि भी उत्तेजित होकर जोर से ठुकाई करने लगा मम्मी इस ताबडतोड चुदाई को दस मिनट भी नही झेल पाई ओर झडने को तैयार हो गयी। 

तो रवि से कहा – जान मेरा तो होने वाला है 

रवि भैया को मम्मी का कामरस इतना पसंद था की वो अपने वीर्य को चाट लेते थे मम्मी के रस के साथ तो ने लंड निकालकर चुत पर अपना मुह लगा ओर चाटने लगा जोर से मम्मी कुछ सैकंड मे ही अपना कामरस रवि के मुह मे भर दिया ओर जोर जोर से आहै भरने लगी। 

रवि ने अब मम्मी की पोजीशन बदली ओर उनको उल्टा लेटाया तो मम्मी अपनी फेवरेट पोजीशन घुटने के बल लेटकर अपनी कमर को नीचे करकर अपनी चुत को बाहर निकालकर रवि को लंड डालने के लिए कहा मम्मी अपनी गुलाबी चुत को इस पोजीशन मे इतनी अच्छी तरह बाहर निकालती है पूछो ही मत यार! 

रवि ने अपना लंड पेल दिया ओर अब मम्मी की मोटी गांड पर थप्पड मारकर उन्हे उत्तेजित करने लगा मम्मी की गांड को लाल कर के रवि भैया ने मम्मी की गांड के भूरे छेद पर थूकने लगे ओर अपने हाथो से गांड के छेद को खोलकर थूक को अंदर करने लगे। 

🧡Also Read – Best Virgin Sex Story in Hindi 🔥Sexy Collections

मम्मी को पता चल गया था की रवि अब गांड मे उंगली डालेगा मम्मी सोच ही रही थी की इतने मे रवि भैया ने अपनी मोटी उंगली गांड मे पेल दी जिससे मम्मी चिहुक उठी। रवि भैया अब गांड ओर चुत की चुदाई स्पीड से करने लगे तो मम्मी भी नीचे लेटी हुई जोर से आहे भरने लगी। 

करीब दस मिनट के राऊड के बाद रवि ने कहा भाभी मेरा होने वाला तो मम्मी ने मेरा भी होने ही वाला है थोडा जोर से करो रवि तभी रवि भैया ने गांड से उंगली निकाली ओर दोनो हाथो से गांड को दबाकर लंड के झटको को तेज कर दिया। दो मिनट मे मम्मी ओर भैया एकसाथ चुत मे झडने लगे एक मिनट बाद रवि भैया ने अपना लंड बाहर निकाला ओर, 

मम्मी को कहा – भाभी हिलना मत 

तभी मम्मी की चुत से रस ओर वीर्य बाहर आने लगा रवि भैया ने इंतजार करने लगे जैसे ही रस नीचे बहने लगा तो उन्होने जीभ लगाकर अपना मुह चुत पर रख दिया ओर सारा रस अपने मुह मे भर लिया। फिर मम्मी को बैठाकर उनको किस करने लगे ओर सारा माल उनके मुह मे भर दिया मम्मी भी मजे लेकर सारा रस चाट गयी ओर रवि के होठो को चुसकर बैड पर लेट गयी। 

रवि भी मम्मी के बगल मे लेट गया ओर मम्मी को अपनी छाती से चिपाकर सुस्ताने लगा कुछ देर आराम करने के बाद रवि भैया ने कपडे पहने ओर अपने घर चले गये मम्मी भी कपडे पहनकर सो गयी। शाम को मम्मी रवि भैया के घर चली गयी ओर उनके यहा चाय पीकर आई मम्मी रवि भैया के मम्मी पापा से मेलजोल बढाने मे लग गयी। 

ताकी रवि भैया के आने जाने का रास्ता साफ रहै शाम को पापा घर आ गये ओर खाना खाते वक्त, 

कहने लगे – वो इस हफ्ते के आखिर मे अहमदाबाद जाएगे कपडे लेने तो उन्हे वहा चार दिन कम से कम लग जाएगे इसलिए मे घर से किसी को बुला लेता हू 

तो मम्मी ने कहा – क्यो परेशान करते हो उनको इतनी दूर आएगे जाएगे गांव से मे रवि की मम्मी से बात कर लूंगी रवि सो जाएगा छत पर हम नीचे कमरे मे सो जाएगे 

तो पापा ने कहा – छत पर क्यो रवि बाहर वाले कमरे मे ही सो जाएगा ना 

मम्मी का तीर निशाने पर लगा, 🎯

मगर रवि की मम्मी की हा बाकी थी अभी पापा खाना खाकर खातो का काम करने लगे ओर मम्मी पापा को दूध देकर छत पर जाने का कहकर छत पर आ गयी। रवि भैया छत पर मम्मी का ही इंतजार कर रहै थे दोनो मोका देखकर कमरे मे घुस गये ओर रात की चुदाई का राऊड पूरा करके नीचे आ गये। 

अगले दिन, वही सीन रहा ओर शाम को मम्मी रवि भैया के घर चली ओर, 

रवि के पापा मम्मी को कहा – रोहित के पापा पूछ रहे थे, रवि चार दिन घर पर सो जाएगा ना उन्हे काम से अहमदाबाद जाना है अगर रवि नही जाना चाहे तो हमे गांव से किसी को बुलाना होगा ओर तो कोई बात नही, 

तभी रवि के पापा बोले – बहनजी ये भी कोई बात हुई गांव से क्यो बुलाना है रवि रातभर पढता ही तो है वहा बाहर कमरे मे पढ लेगा ओर वही सो जाएगा ये सुनकर मम्मी की मोज हो गयी ओर वो चाय पीकर आ गयी रवि भैया उस समय सो रहे थे तो उन्हे पता नही चला इस बात का खैर चार दिन के बाद पापा को जाना था, 

मम्मी ने कहा – रवि सो जाएगा यहा आप ध्यान से जाना ओर काम जल्दी खत्म कर के जल्दी वापिस आ जाना 

पापा ने कहा – ठीक है मुझे वहा फालतू क्यो रूकना है 

ओर रविवार को पापा शाम को अहमदाबाद चले गये। मम्मी दिन मै बाजार गयी ओर नयी ब्रा पेटी टीशर्ट ओर टाइट पजामा खरीदकर लायी थी रात के लिए शाम को मम्मी रवि के घर गयी ओर, 

कहा – रवि को उठते ही भेज देना खाना वही खा लेगा 

तो रवि के पापा ने कहा – बहनजी खाना तो यही खा लेगा आप चिंता मत करो वो खाना खाते ही आ जाएगा 

तो मम्मी ने कहा – भाई साहब आप भी क्या हो गया रवि बच्चो के साथ कुछ देर खेल लेगा ओर उन्ही के साथ खाना भी खा लेगा। 

ये सुनकर उन्होने कहा – चलो ठीक है 

फिर मम्मी आने लगी तो रवि के पापा ने कहा हम सुबह जाते वक्त चाबी दे जाएगे रवि लेट उठता है तो वो आराम से आ जाएगा। 

ये सुनकर मम्मी ने कहा – ठीक है भाई साहब 

मम्मी ने घर आकर खाना बनाया ओर नहाने चली गयी नहाकर मम्मी ने नयी ब्रा पेटी पहनी ओर टाइट पजामा पहना जिसमे मम्मी की मोटी मोटी गांड क्या कमाल की लग रही थी मम्मी ने कपडे पहनकर परफ्यूम लगाया ओर लाल लिपस्टिक लगाकर रवि का इंतजार करने बैठ गयी

आगे क्या हुआ जानने के लिए पढते रहे, Meri Real Sex Story का अगला भाग जल्द ही पेश होगा आपके लिए।।

🧡 इसे भी पढ़े – माँ की अन्तर्वासना – एक सेक्सी आत्मकथा🔥💜(Part-1)

What’s your Reaction?
+1
20k
+1
15k
+1
17k
+1
21k
+1
10k
+1
10
+1
50

Similar Posts

3 Comments

  1. दुनिया मे बहुत कुछ होता है मगर पर्दे की पिछे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *