/ / मेरी सैक्सी मम्मी का पहला ग्रुप सैक्स
Aunty Sex Story Bhabhi Sex Story Couple Sex Story Desi Sex Story Family Sex Story First Time Sex Story Girlfriend Sex Story Group Sex Story Hindi Sex Story Maa Beta Sex Story Porn Story Romantic Sex Story XXX Story

मेरी सैक्सी मम्मी का पहला ग्रुप सैक्स

जैसे कई आप ने अब तक पढा मम्मी की गांड की सील भी खुल चुकी थी ओर मम्मी सैक्स की सभी पोजीशन का लुफ्त उठाकर अपने जीवन का मजा ले रही थी। रवि भैया ओर मम्मी की सेटिंग बहुत कामयाब रही अब जैसा की मैने बताया रवि भैया से मम्मी के संबंध पाच साल चले। 

दोस्तो केसै है आप सब उम्मीद करता हू आप मेरी कहानीया पढकर मजे कर रहै होगे। ये वाला भाग एक कामुकता से भड़ी ऐसी सामूहिक चुदाई की कथा आपने तभी नहीं होगी और ना ही सुनी होगी। इसलिए मेरी सैक्सी मम्मी का पहला ग्रुप सैक्स की कहानी को पूरा पढ़ना🙏। चलिए अब अपनी कहानी पर आते है। 

पिछला भाग – मेरी सैक्सी मम्मी ने अपनी गांड की सील खुलवाई

अगला भाग – मेरी सैक्सी मम्मी का पहला ग्रुप सैक्स -2 👩‍🦰•🧔•👲•👱‍♂️•👨‍🦱

मगर इसी दौरान मेरी बडी बहन जवान हो गयी देखते ही देखते। मेरी बडी बहन जिसकी उम्र 18 की हो चुकी है तो आप समझ सकते है वो मेरी मम्मी की जवानी की याद दिलाने लगी। हालाकि उसका शरीर का साइज अभी 34 26 36 ही था मगर सुदर नैन नक्श गोरा रंग ओर 5.6 की हाइट ने भी कई लडको को दिवाना बना रखा था कच्ची कली के आगे पिछे भवरो की लाइन लग गयी थी मगर मिलती उसी को है जिसके नसीब अच्छे होते है। 

मेरी बहन का नाम शशी है ओर उसने 12वी पास कर ली अब वो कॉलेज के प्रथम वर्ष की छात्रा थी मे भी 16 का हो गया था मे 12 वी क्लास मे हो गया था शशी कॉलेज जाने लगी तो घर जल्दी ही जाती थी दोपहर मे इसलिए मम्मी ओर रवि आजकल सिर्फ सुबह सुबह ही सैक्स कर पाते थे। 

हफ्ते मे एक आध बार ही दोपहर मे चुदाई होने लगी उधर मम्मी के कारण रवि भैया की तैयारी नही हुई तो अब जाकर रवि भैया की रेल्वे मै नोकरी लगी रवि भैया को जल्दी ही ट्रेनिंग पर जाना था महीने के लिए फिर उनको नोकरी ज्वाइन करनी थी। 

मम्मी ये जानकर थोडा उदास सी रहने लगी थी इसी बीच रवि ने मम्मी को एक दिन चुदाई करते हुए अपने मन की बात कही, 

ओर बोला – भाभी मे आपके साथ एक बार ग्रुप सेक्स करना चाहता हू मेने इसकी कई सारी Group Sex Story पढ़ी है, बस इतनी इच्छा है आपने मेरी सभी इच्छा पूरी की है तो ये भी कर दो! 

तब मम्मी ने कहा – रवि ये केसै होगा शशी ओर रोहित की वजह से हम भी नही मिल पाते 

तो रवि ने कहा – आप हा करो बाकी सबकुछ मे प्लान करूगा 

तो मम्मी ने पूछा – रवि ओर कोन है 

फिर तो रवि ने कहा – भाभी मेरे दोस्त है गांव के वो सब सरकारी नोकरी मै है ओर यहा कोई नही है सब बाहर है उनको मे बुला लूंगा प्लान कर के, आपको उनकी कोई चिंता नही है सब मेरे जैसे ओर मेरी उम्र के ही है बस हम उस दिन पूरा गंदा सैक्स करेगे। 

तो मम्मी ने कहा – इससे गंदा भी बाकी है 

तो रवि ने कहा – भाभी बहुत बाकी है भाभी हम सब शराब पीकर सैक्स करेगे आपको भी पीनी पडेगी 

तो मम्मी ने कहा – रवि मेने कभी शराब को छुआ भी नही यार ओर कुछ भी कर लेना बस शराब नही पिऊगी 

तो रवि ने कहा – भाभी मेने भी नही पी है कभी मगर एक दिन पीऊगा बस पहली ओर आखिरी बार 

ओर मम्मी भी ये सुनकर उत्तेजित हो गयी ओर जोर से चुदवाई करवाने लगी, चुदाई करवाकर, 

मम्मी ने कहा – रवि तुम्हारे लिए मै कुछ भी करने को तैयार हू अब तुम्हारे हाथ मै है तुम कैसे पूरा दिन मुझे ले जा सकते हो 

तो रवि ने कहा – भाभी दिन मे नही करेगे आपकी तरह रात मै 

तो मम्मी ने कहा – भूल जाओ रवि रात को तो तुम कीसी तरह नही ले जा सकते मुझे 

तो रवि ने कहा – भाभी आप इंतजार करो बस सब कुछ मै कर दूंगा 

तो मम्मी ने रवि को कीस करते हुए कहा – ठीक है! मेरी जान! मुझे मंजूर है! मै रंडी भी बनने को तैयार हू तुम्हारे लिए!!! 

ये सुनते ही रवि ने मम्मी को गले लगाकर thank you कहा !!

ओर फिर मम्मी घर पर आ गयी रवि सोचने लगा केसै मम्मी को लेकर जाऊ मगर कोई तरीका नही मिला ओर इस तरह रवि अपनी ट्रेनिंग कर के आ गया। 

मगर कुछ नही बना मम्मी भी निराश होने लगी रवि तो अब नोकरी पर चला जाएगा ओर मेरी ग्रुप सेक्स की इच्छा को भडका भी दिया मम्मी की भगवान ने सुन ली ओर रवि भैया को मोका मिल गया। रवि भैया का गांव जयपुर से 150 किलोमीटर दूर ही है जहा पर रवि की नोकरी लगने की खुशी मे रवि के मम्मी पापा ने एक पार्टी देने की सोच रहे थे। 

रवि ने भी उनको हा कर दी ओर रवि ने प्लान बना लिया अब पार्टी के बहाने मम्मी के साथ ग्रुप सेक्स का मम्मी को रवि ने सारा प्लान बता दिया केसै क्या करना है। 

रवि के मम्मी पापा ने गांव जाने से पहले पापा को कहा – भाई साहब आपको सपरिवार आना होगा 

तो पापा ने कहा – जरूर भाई साहब 

रवि के मम्मी पापा 7 दिन पहले गांव चले रवि भी चला गया इधर हमारे घर मे पार्टी मे जाने की बात होने लगी तो शशी ने मना कर दिया, 

ओर कहने लगी – वो एक दिन के लिए इतना परेशान नही होगी आप चले जाना 

पापा ने भी कहा – मेरा जाना भी मुश्किल है शादीयो का सीजन है तो काम बहुत ज्यादा है आजकल 

ये सुन मम्मी खुश हो गयी मन ही मन, 

ओर मुह बनाकर बोली – तो मना कर देते उसी वक्त हा क्यो की क्या सोचेगे भला 

तो पापा ने कहा – तुम चली जाना पास में ही तो है गाडी लेकर तुम्हे ड्राइवर चला जाएगा ओर साथ ही आ जाना गाडी मै 

ये सुनकर मम्मी की हवाईया उडने लगी!!! 

ओर मम्मी ने मजबूरी मे हा कर दी!! 

अगले दिन सुबह,,, रवि का फोन आया 

तो मम्मी ने कहा – रवि सारा प्लान चौपट हो गया है कुछ नही होगा 

तो रवि ने कहा – तुम चिंता मत करो मै हू ना ओर कहकर फोन रख दिया 

पार्टी से पहले दिन रवि जयपुर आया ओर दुकान पर जाकर पापा को नमस्ते कीया ओर दुकान से लेने देने की 5000 रूपये के कपडे खरीदे ओर उनसे कल कितने बजे तक आ जाओगे ये पूछ लिया 

तो पापा ने कहा – रवि तुम्हारी भाभी आएगी कल गाडी मे बेटी का कालेज ओर बेटे की 12वी पढाई है मुझे भी काम बहुत है देख लो तुम्हारे सामने खाने की फुर्सत नही है 

तो रवि ने मोका पर चोका मारा ओर कहा – तो फिर भाभी सुबह मेरे साथ चली जाएगी, शाम को मम्मी पापा आएगे तो साथ मै ही आ जाएगी 

ये सुनकर पापा ने कहा – रवि ये भी ठीक रहेगा! ओर हा कर दी!! 

मम्मी घर बैठी टेंशन मै आ रही थी शाम को रवि भैया बाजार के सारे काम कर के घर पर आ गये ओर घर जाकर समान छोडा नहाकर रवि भैया ने खाना बनाया ओर हमारे घर आ गये पापा भी आ गये थे। रवि ने डोरबैल बजाई तो शशी ने आकर दरवाजा खोला, 

रवि ने शशी की जवानी को अपनी आंखो से ताडा तो शशी ने रवि भैया को अंदर आने का कहा हंसकर रवि भैया अंदर आये तो मम्मी रवि को देखकर चोक गयी, 

ओर कहा – रवि तुम यहा कैसे कल तो पार्टी है गांव मै 

तो रवि भैया ने कहा – आज समान लेने के लिए आया था पहले प्रोग्राम छोटा था मगर अब प्रोग्राम बडा होने के कारण कुछ जरूरी समान लेने आना पडा।

तभी रवि ने गिलास देते हुए मम्मी से दूध मांगा तो मम्मी ने अपनी दूध को सहलाकर अपनी उंगली से इशारा कीया ये क्या तो रवि भैया हंस दिये! मम्मी दूध लेने चली गई! 

तो पापा ने रवि को कहा – रवि बैठ जाओ खाना खा लो यही 

तो रवि ने कहा – खाना बनाकर आया हू 

तो पापा डाटने लगे ओर कहने लगे – रवि क्या एक दिन भी हम खाना नही खिला सकते 

तो रवि ने कहा – सुबह से खाली पेट घुम रहा था तो आते ही बना लिया सुबह जल्दी जाना है तो दूध लेने आया था!! 

इतने मे मम्मी आ गयी !!!

तो रवि ने कहा – भाभी सुबह 5 बजे चलेगे आप लेट मत करना जल्दी ही तैयार हो जाना 

ये सुनकर मम्मी के बोलने से पहले ही पापा ने कहा – कल तुम सुबह रवि के साथ ही चली जाना वो शाम तक लोट आएगे तो कोई दिक्कत नही है 

ये सुनकर मम्मी रवि का प्लान समज गयी ओर मन ही मन खुश हो गयी 

तभी रवि ने कहा – भाभी सुबह पांच बजे चलेगे 

तो मम्मी ने कहा – रवि बस से जाना है क्या 

तो रवि ने कहा – वो जीप लेकर आया है गाव से उसी मे चलेगे 

तो मम्मी ने हा कर दी!! 

मम्मी ने खाना बनाया ओर बाथरूम मे जाकर अपने सभी बाद साफ कीये ओर आकर खाना पीना करवाकर हमे कमरे मे सोने का बोल दिया ओर शशी को खाना बनाने ओर घर के काम समझाने लगी। मम्मी अब कमरे मे चली गयी ओर, 

पापा से बोलने लगी – तुम भी ना रवि को हा क्यो भरी 

तो पापा ने कहा – पांच साल से ज्यादा हो गया देखते बहुत शरीफ ओर समझदार लडका है 

तो मम्मी ने कहा – मुझे भी पता है मगर रवि कह रहा था प्रोग्राम बडा है तो कही वो नही आ पाये तो मुझे भी रूकना पडेगा ना 

ये सुनकर पापा ने कहा – रूक जाना तो रात रात क्या हो गया 

मम्मी ने आगे का रास्ता भी साफ कर लिया, 

ओर कहने लगी – सुनो जी मै एक जोडी कपडे डाल ही लेती हू क्या पता कल रात को रूकना पड ही गया 

तो पापा ने कहा – डाल लो इसमे पूछने की क्या बात जगह ही नयी है लोग तो अपने ही 

ये सुनकर मम्मी ने कहा – ये तो ठीक कहा आपने 

ओर पापा को दूध देकर अर्लाम लगा दी ओर सो गयी लेकिन मन ही मन ये सोच रही थी ग्रुप केसा लगता होगा इसके बारे पे मम्मी ने सिर्फ अब तक रवि की भेजी Antarvasna Hindi Story की किताबो में ही पढ़ा था लेकिन फिर मम्मी ने ज्यादा नहीं सोचा ओर सो गयी। 

सुबह चार बजे उठकर मम्मी नहाकर चाय पीकर लाल रंग की बनारसी साडी बांधकर कीसी हिरोइन की तरह सज धजकर तैयार हो गयी रवि ने ठीक पांच बजे डोरबैल बजा दी तभी मम्मी ने पापा को उठाया, 

ओर कहा – रवि आ गया है मै जाऊ आप गेट बंद कर लो 

मम्मी ने अपनी बैग उठाई ओर पापा को गले लगाकर चुम लिया मम्मी ने गेट खोला तो रवि सामने जीन्स टीशर्ट मै तैयार खडा था। मम्मी के पिछे पापा थे तो मम्मी ने रवि को देखते ही रवि को आख मार दी रवि ने मम्मी से बैग लिया ओर जीप मै पीछे रख दिया। 

पापा गेट बंद करके अंदर चले गये तो रवि ने मम्मी को गले लगाकर कीस कर दिया। 

मम्मी ने कहा – रवि क्या हो गया छोडो कोई देख लेगा तो?? मुसीबत हो जाएगी?!! 

ये सुनकर रवि ओर मम्मी जीप मै बैठ गये ओर रवि ने जीप स्टार्ट कर ली जयपुर से बाहर निकलकर हाइवे पर पहुंच कर रवि ने एक होटल के आगे गाडी रोक दी ओर चाय लेने चला गया दोनो ने चाय पी ओर रवाना हो गये होटल से चलते ही रवि को मम्मी ने बताया शाम के लिए मेने रोहित के पापा को ये बोला है, 

तो रवि ने कहा – भाभी मम्मी पापा ने छुट्टिया ली है दो हफ्ते की ओर मेरे दोस्त जयपुर के एक होटल मे रूके है वो अब आएगे ओर खाना खाकर चले जाएगे शाम को  हम सीधा जयपुर आकर रात को होटल मे रूकेगे घर से चलने से पहले आप रूकने का बोलकर फोन कर देना। 

ताकी रात की कोई टेंशन ना रहे ये सुनकर मम्मी ने कहा ठीक है रवि इस तरह तीन घंटे के सफर के बाद 8 बजे रवि ओर मम्मी रवि के गांव पहुंच गये। 

रवि का घर बहुत बडा था रवि का परिवार भी काफी बडा था दोपहर मे रवि के दोस्त नीरज , किशन ओर मोहन आ गये रवि ने तीनो को मम्मी से मिलवाया तो तीनो अपने लंड को खुजाने लगे मम्मी से बाते करते हुए मम्मी ने हंसकर उनकी हवस को भडका दिया। 

तीन बजे वो तीनो जाने लगे तो रवि के पापा ने कहा – इतनी जल्दी?!! 

तो रवि ने कहा – इन्हे रात को जाना है सुबह ऑफिस है 

तो रवि के पापा ने कहा – ठीक है ध्यान से जाना!! 

वो तीनो भी रवि की तरह 6 फुट से अधिक लंबाई ओर कसरती शरीर के मालिक थे।!! 

मम्मी रात के बारे मे सोचने लगी तो मम्मी की उत्तेजना से मम्मी की चुत ने कामरस छोड दिया रवि भी अब काम जल्दी जल्दी समेटने लगा शाम होते ही। 

रवि ने कहा – पापा मै भी चलता हू अब भाभी भी साथ है कही लेट ना हो जाए 

रवि के पापा ने कहा – चलो ठीक है तुम पहुंचकर फोन कर देना ओर कल ध्यान से जाना अब खाना खा लो ओर भाभी के लिए मिठाई भी डाल लो साथ मै 

रवि ने कहा – ठीक है!

मम्मी ओर रवि ने खाना खाया ओर मम्मी ने मोका फोन कर दिया पापा आज जल्दी आ गये थे घर पर 7 बज चुके थे घर पर हो रहे शोर शराबे से पापा को भी शक नही हुआ कुछ रवि ओर मम्मी अब घर से निकल गये ओर बिना कही रूके रवि ने जीप ढाई घंटे मे जयपुर पहुंचा दी। 

रवि ने होटल की पार्किंग मै जीप को लगाया ओर होटल के रिसेप्शन पर पहुंच गये रवि के नाम से यहा एक कमरा बुक करवा दिया था रवि के दोस्तो ने रवि ओर मम्मी कमरे मै पहुंचकर नहाने के लिए एकसाथ ही बाथरूम मै घुस गये। 

मम्मी ओर रवि नहाते हुए एक दूसरे को चुमने लगे तभी कमरे का गेट बजा तो रवि तोलिया लपेटकर बाहर आया, 

ओर पूछने लगा – कोन? 

तो मोहन ने कहा – मे मोहन हू कितनी देर ओर लगेगी भाई?!! 

तो रवि ने कहा – बस दस मिनट मै आ रहै है रूम मे! 

ये सुनकर मोहन चला गया ओर रवि बाथरूम मे घुस गया दोनो जने जल्दी से नहाकर बाहर निकले ओर कपडे पहनने लगे मम्मी ने वही जीम वाला टाईट पजामा पहना ओर उपर छोटी सी टॉप जिससे मम्मी की नाभी दिख रही थी। 

मम्मी ने बाल खोलकर एक रबड डाल लिया ओर लाल रंग की लिपस्टिक लगाकर अपने आपको आइना मे निहारने लगी मम्मी कीसी हॉट रंडी की तरह चमकने लगी। 

तभी रवि ने मम्मी को कहा – चले जान 

तो मम्मी खडी हो गयी ओर कहा – चलो रवि आज तुम्हारी आखिरी इच्छा भी पूरी कर देती हू!! 

ये सुनकर रवि ने मम्मी को गले लगा लिया ओर किस करके thank you जान कहने लगा!! 

रवि ने गेट खोला तो मम्मी भी बाहर आ गयी ओर रवि ने आगे चलने को कहा – तो मम्मी गांड को मटकाकर चलने लगी 

टाईट पजामे मे मम्मी अपनी गांड को मस्ती मे हिलाकर चल रही थी तभी रवि पीछे से आकर मम्मी को रूकने के लिए कहा ओर कमरे के गेट को अपने रूम की चाबी बजाकर मोहन को आवाज लगाई। 

मोहन ने कहा – रवि अंदर आ जा गेट खुला है!!! 

रवि ओर मम्मी गेट खोलकर कमरे मै घुस गये ये रूम डीलक्स रूम था जिसमे डबलबैड टीवी ओर एक सोफा सेट टेबल के साथ अलमारी ओर ड्रेसिंग भी थी!!

💥दोस्तों कहानी को पूरा पढ़ते रहे हो, अगर यह तक आ गए हो तो अब तुम्हे इस उस भाग में इतनी चुदाई, इतनी चुदाई, इतनी चुदाई, इतनी जबरदस्त चुदाई होने वाली है की मम्मी की चूत का भोसड़ा नहीं सिनेमा हॉल बन जायेगा।

❤Also Read – Best Aunty Sex Stories Best Sexy and Hot Collections🔥

मम्मी जवानी से लेकर अब तक सैक्स के दबाकर मजे ले रही थी एक रंडी की तरह। रंडी पैसो के लिए चुदाई करवाती है तो मम्मी चुत की आग बुझाने के लिए बस दोनो मे इतना ही अंतर है, कीसी रंडी की तरह ही मम्मी ने अबतक सैकडो लंड खाए होगे अपने जीवन मै। 

मगर ज्यादातर मम्मी ने कीसी को फंसाकर ही अपना साल दो साल पांच साल तक मोज काटी है खैर अब आगे की Mummy Group Sex Kahani है इसके बाद मम्मी ने कई बार ग्रुप सेक्स का मजा लिया फिर क्योकी आपको भी मालुम है सैक्स की लत भी कीसी नशे की तरह ही है जो बढती ही जाती है। 

घासकर के महिलाओ को 35 से 50 की उम्र के बीच जो महिलाए चालु होती है मेरी मम्मी की तरह वो लंड के लिए पगला जाती है इस उम्र मै।

अब आप Sexy Story सुनो आगे की, मम्मी ओर रवि दोनो कमरे मे आ गए थे मम्मी आज पहली बार होटल मे गयी थी वो भी पांच स्टार होटल के डीलक्स रूम मे रूम मे पांच सीटर सोफा टेबल बडा टीवी ड्रेसिंग अलमारी ओर एक डबलबैड के साथ एसी लगा था। 

एसी चलने से कमरे मे जाते ही मम्मी को ठंड लगने लगी नीरज मोहन ओर श्याम ने खडे होकर रवि ओर मम्मी को हाय कीया ओर सोफे पर बैठने को कहा रवि ओर मम्मी सोफै पर बैठे गये मम्मी बीच मे थी। तो पास मे मोहन आकर बैठ गया ओर मम्मी की तरह मुस्करा दिया ने मम्मी ने भी हंसकर मोहन का स्वागत कीया। 

तभी नीरज ने रवि को पेग बनाने का इशारा कीया तो रवि ने टेबल पर रखे पांच गिलासो मे एक छोटा छोटा अंग्रेजी शराब का पेग बना दिया चारो दोस्तो ने अपना अपना गिलास उठाया ओर सब मम्मी की तरफ देखने लगे। मम्मी ने रवि की तरह ना का इशारा कीया तो रवि ने मम्मी को अपनी कसम दे दी, 

ओर कहा – मेरी कसम लगेगी आपको प्लीज भाभी!!! 

मम्मी भी आज पूरे मूड मे ही थी तो गिलास उठा लिया सबने मिलकर चीयर्स कीया ओर शराब पीने लगे मम्मी ने एक सीप लिया तो उनको लगा उल्टी आएगी तो वो रूक गयी। 

तब रवि ने मम्मी को कहा – भाभी नाक को बंद कर के पी जाओ 

तो मम्मी ने अपनी नाक को पकडकर गिलास खाली कर दिया ओर कहने लगी – रवि ये तो बहुत खारी है जान ओर हंस दी 

तो रवि ने कहा – भाभी जब मेने गांड की सील खोली थी तो दर्द हुआ था आपको मगर अब तो मजा ही मजा है वेसै ही शराब है अब खारी नही लगेगी 

ओर मम्मी की तरफ रोटेस्ट काजु की प्लेट कर दी मम्मी ने कुछ काजु उठाए ओर खाने लगी तभी मोहन ने मम्मी को कहा भाभी पार्टी केसै रही 

तो मम्मी ने कहा – अभी क्या बताऊ अभी तो पार्टी शुरू हुई है सुबह पता लगेगा 

इस पर सब हसने लगे तभी 

नीरज ने कहा – भाभी ये पार्टी तो उम्र भर याद रहेगी 

तो मम्मी ने कहा – मै भी यही चाहती हू तभी तो रवि के कहने पर आई हू 

ये सुनकर मोहन ने सभी गिलास मे एक पेग ओर डाल दिया सभी जने गिलास उठाकर चीयर्स करके पीने लगे इसबार मम्मी को कोई तकलीफ नही हुई। मम्मी ने दूसरा पेग भी खत्म कर लिया तो मम्मी का शरीर मदहोश होने लगा। 

फिर तभी मोहन ने रवि से कहा – खाना खा लो 

तो रवि ने कहा – हम तो खाकर आए है भूख नही आप खा लो 

उन तीनो ने नॉनवेज मंगा रखा 

तो रवि ने कहा – भाभी को नॉनवेज पसंद नही है तो तुम खा लो हम बैठे है 

तब तक खाना रूम मे दूसरी टेबल पर रखा था रवि ने काजु की प्लेट उठाई ओर मम्मी का हाथ पकडकर उन्हे बेड पर बैठा दिया ओर दोनो एक दूसरे को काजू खिलाने लगे। 

इस बीच उन तीनो ने खाना खाया ओर हाथ धोकर आ गये, 

ओर रवि को कहा – रवि शुरू करे यार अब रहा नही जाता!!! 

तभी नीरज ने कहा – सही है भाई भाभी को देखने के बाद मोहन तो मुठ भी मार आया है एक बार शाम को 

ओर सब हंसने लगे!! 

तभी रवि ने कहा – तो आ जाओ शुरू करो मेने तो हाथ नही पकड रखे 

ये सुनते ही सबसे पहले मोहन आ गया ओर बेड पर झुककर मम्मी के होठो पर होठ लगा दिये ओर कीस करने लगा तभी बाकी तीनो ने अपनी टीशर्ट बनियान निकाल दी रवि बेड पर लेट गया ओर मम्मी की जाघो पर सर रखकर टॉप से दिख रही उनकी नाभी को चुमने लगा। 

मम्मी भी आहे! भरने लगी तभी नीरज मम्मी के पीछे आकर बैठ गया ओर मम्मी के दूध को दबाने लगा, किशन अब खडा खडा अपने लंड को सहलाने लगा पजामे के उपर से। 

तभी किशन बैड के नजदीक आया ओर मम्मी के हाथ को पकडकर अपने पजामे मे डाल दिया। 

दोस्तो किशन का लंड आज की रात और हमारी मम्मी की Desi Sex Kahani कथा का चीफ गेस्ट था, मतलब मोहन ओर नीरज के लंड 6 इच लंबे थे ओर रवि भैया के लंड से मोटा भी कम था मगर किशन का लंड सबसे बडा ओर मोटा जैसे सीताराम का लंड था 7 इच लंबा ओर तीन इच से भी मोटा लंड था। 

किशन का लंड पकडते ही मम्मी की चुत से पानी निकलने लगा! 

मम्मी ने अब अपना दूसरा हाथ रवि भैया के पजामे मै डाल दिया ओर उनके लंड को भी सहलाने लगी तभी नीरज ने मम्मी की टॉप को निकालने लगा तो मम्मी को अपने दोनो हाथ पजामे से निकालने पडे, 

नीरज ने कहा – सभी नंगे हो जाए पहले 

ये सुनकर चारो ने अपने पजामे ओर कच्छे खोलकर फेक दिये मगर मम्मी बैठी रही तो नीरज ने पीछे से ब्रा खोलकर उनके कबूतरो को आजाद कर दिया ओर इधर मोहन ने मम्मी को पीछे धक्का दिया तो मम्मी नीरज के उपर गिर गयी। 

मोहन ने अब मम्मी की टांग को उठाया ओर उनका जीम वाला पजामा खोलकर फैक दिया मोहन मम्मी की गोरी जाघो को देखकर रवि को, 

गाली देने लगा – हरामी कुते की ओलाद कितने सालो से तु अकेला अकेला ही मेवा खा रहा है दोस्तो को भूलकर!!! 

ओर घुटनो के बल बैठकर मम्मी की जाघो को चुमने लगा, मम्मी ने फिर से अपने हाथो से किशन ओर रवि के लंड को पकड लिया ओर जोर से दबाने लगी। 

मम्मी की मुठ्ठी मे लंड नही समा रहे ये तभी मोहन ने मम्मी की पेटी पर किस कीया ओर को खीचने लगा मम्मी की फैन्सी ट्रासपेरट पेटी फटकर मोहन के हाथ मै आ गयी। 

तो मम्मी ने कहा – कुते! भोसड़ीके! कही भगी जा रही हू क्या?! 

तो मोहन ने कहा – रंडी पेटी की दुकान खुलवा देगे डर मत! 

ओर सब हंसने लगे!!! 

इधर पेटी फटकर मम्मी की कमर के नीचे दब गयी ओर मोहन ने टांग फैलाकर मम्मी की चुत पर कीस कर दिया ओर अपनी लंबी अपनी जीभ मम्मी की गुलाबी चुत की दो फांखो को फैलाकर उसमे अंदर डाल दी। 

मम्मी सीत्कार उठी मम्मी के मुह से गर्म सासे निकलने लगी जो नीरज के मुह पर टकराने लगी थी मम्मी की गर्म सांसो से नीरज की उत्तेजना बढने लगी मम्मी चौतरफा हो रहै हमले को जैल नही पा रही थी। 

मम्मी ने उत्तेजित होकर अपनी जाघो से मोहन का सिर दबा लिया ओर जोर से झडने लगी मोहन कीसी कुते की तरह मम्मी के कामरस को पीने लगा। मोहन ने नीरज को आगे आने को कहा तो नीरज बैड के नीचे बैठकर मम्मी की चुत को चुसने लगा। 

तो मोहन मम्मी के दूध दबाने लगा झुककर ओर मम्मी के मुह मे लंड को ठुसने लगा मम्मी ने मोहन के लंड को मुह मे भर लिया ओर मोहन के पूरे लंड को निगल गयी एक रंडी की तरह। मोहन अब चुत की तरह मम्मी के मुह की चुदाई करने लगा मम्मी की उत्तेजना बढने लगी। 

अब तो मम्मी की चुत लंड मागने लगी मगर वो अभी मम्मी को चोदने के मूड मे नही थे वो पहले मम्मी के बदन को चुसना ही चाहते थे वो पूरी रात चुदाई के हिसाब से आगे बढ रहै थे। उन्हे कोई जल्दी नही थी मगर मम्मी की चुत ओर गांड मे खुजली बढने लगी थी। 

नीरज मम्मी की चुत को मजे लेकर प्यार सै चाटने मे लगा था ओर मम्मी के मुह मे मोहन का लंड फसा था जिसके कारण मम्मी के मुह से गो! गो! की आवाजे आ रही थी। रवि ओर किशन भैया के लंड तनतना रहै थे कीसी गर्म राड की तरह ओर इसी बीच एकबार फिर मम्मी अपने चरम पर पहुंच गयी ओर मम्मी की चुत का झरना बहने लगा ओर मम्मी ने तरसी नजरो से रवि की ओर देखा। 

❤Also Read – Best Mastram Stories Best Sexy and Hot Collections🔥

तो रवि समझ गया मम्मी की चुदास को मगर रवि ने आखे बंद कर के थोडा रूकने को कहा तो मम्मी भी चुप हो गयी इस बीच नीरज खडा हो गया ओर अब किशन नीरज की जगह अपने घुटनो पर बैठकर मम्मी के पेरो की उंगलिया को चुसने लगा। 

तभी मोहन का लंड मम्मी की चुसाई के आगे घुटने टेकने लगा ओर मोहन का बदन अकडने लगा मोहन ने मम्मी के मुह मे लंड के झटको की गति तेज करदी ओर दो मिनट बाद मोहन ने मम्मी के मुह को अपने हाथो से पकडकर मम्मी के मुह मे अपना सारा माल गिरा दिया। 

मम्मी ने मजे लेकर मोहन का सारा माल गटक लिया मोहन के लंड निकालते ही नीरज ने अपने लंड को मम्मी के मुह मे डाल दिया ओर मम्मी के मुह को चुत समझकर चोदने लगा!!! 

नीरज का लंड सीधा गले के अंदर लग रहा था मम्मी के ओर इधर नीचे किशन भी जाघो को चुमते हुए मम्मी की चुत तक पहुंच गया ओर मम्मी की चुत के उपर कीस करने लगा। 

मम्मी की आज आह भी बाहर नही निकल रही थी किशन अब मम्मी की चुत को उपर से नीचे तक जीभ से चाटना शुरू कर दिया। मम्मी भी गांड उठाकर चुत चटवाने के मजे लेने लगी दस मिनट बाद मम्मी का बदन अकडने ओर उधर नीरज ने भी अपने लंड की स्पीड को बढा दिया। 

मम्मी ने किशन के मुह पर अपना कामरस छोड दिया जिसे किशन बडे प्यार से चाटने लगा मम्मी जैसे ही निढाल हुई वेसै ही नीरज के लंड की पिचकारी से मम्मी के मुह को भरने लगा एक मिनट तक नीरज मम्मी के मुह मे झडता रहा नीरज के माल से मम्मी का मुह भर गया जिसे मम्मी ने चटकारे लेकर चाट लिया। 

नीरज के उतरते ही किशन बैड के उपर आ गया तो मम्मी ने किशन को लेटने को कहा, 

ओर अब रवि को कहा – जान तुमको आज रस नही पीना क्या??! 

ये सुनकर रवि बैड पर बैठ गया किशन के सोने के बाद मम्मी डागी स्टाइल मै आ गयी ओर रवि को पीछे से चुत चाटने का कहकर मम्मी ने किशन के लंड को मुह मै भर लिया। 

रवि भैया से एक इच ओर बडा होने के कारण पुरा लंड नही ले पा रही थी मम्मी मगर कोशिश जारी ओर कुछ देर बाद मम्मी ने किशन का लंड भी पूरा निगल लिया। किशन का लंड आजतक कीसी ने ऐसा नही चुसा था किशन भी लंड चुसवाकर सातवे आसमान मे पहुंचने लगा ओर आंखे बंद कर के अपने हाथो से मम्मी के सिर को पकडकर अपने लंड पर जोर से दबाने लगा। 

अब आगे की कहानी अगले भाग में, मेरे साथ जुड़े रहे !

🧡 इसे भी पढ़े – माँ की अन्तर्वासना – एक सेक्सी आत्मकथा🔥💜(Part-1)

🧡 इसे भी पढ़े – मेरी मम्मी ओर पडोस के भैया

🧡 इसे भी पढ़े – मेरी सेक्सी मम्मी ओर रंगीन मामी

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
30k
+1
25k
+1
10k
+1
30k
+1
11
+1
20

Similar Posts

18 Comments

  1. Ye group sex tha behinchod amaaa puri sex party chal rhi hai,, esi slut mummy ki kahani aajtk nhi padi,, me first part se padta rha hu,, bhai jis kisi bhi mummy hai ye uski to zindagi bani padi hogi??

    Bhai tumne choda apni mummy ko kya???

    1. जी बिलकुल सही कहा मगर वो भाग अभी काफी आगे आएगा इससे पहले तो कई गर्म भाग आएगे पढने के लिए बस आप पढकर मजा लिजिए

  2. Meri maa bhi randi hai saali mene kai baar use dekha hai,, apne chacha se chudwate, mamu ka lund chooste, dada ji se apni gaand ka bhosra banwate.. Sali randi hai mujhe to use apni maa kehne me bahut saram aati hai, use me maa nhi randi slut samjhta hu,, ek din use esa chdunga, esa chodunga ki duniya jamane ke lode bhoolke meri lund ki pooja hi karegi madherchod saali…..

  3. Kya such me koi aurat itna bhi sexy feel kar sakti hai?? ye mummy to kamal ki randi hai… 21 lode ki salami is gazab ki chudakker hasti ko…

  4. It’s nearly impossible to find experienced people for this subject, however, you sound like you know what you’re talking about!
    Thanks…

  5. My Friend recommended I might like this website.
    He was totally right. This post actually made my day and mene muth bhi maari. You cann’t imagine just how much time I had
    spent on this website! Thanks!☺🙏.

    I will come daily!

  6. Ye Mummy itni emotionally strong kese hai, jo ek ko hatake dusre kisi ke sath bhi maze le rhi hai!

  7. Very soon this web page will be famous among all blogging users, due to it’s good and sexy stories!

  8. Mene apki sabhi stories padi hai or ap acha likhte ho. lekin me chahta hu ki aap apni mummy ki kahani se hatke or bhi Kisse wali stories batao!!!

    1. जी बिलकुल पहले इस कहानी के सभी भाग प्रकाशित हो जाए फिर

    1. जी जवानी की दहलीज पर कदम रखते ही लडकी चुदने लग जाए ओर कई लोगो से चुदाई कर ले तो फिर वो एक से संतुष्ट कैसे हो सकती है बस इसी कारण उसकी चुत की गर्मी उसे परेशान करती है ओर शादी के बाद जिसे चुदाई की लत लग गयी वो जाती नही

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *