/ / मेरी सैक्सी मम्मी का पहला ग्रुप सैक्स -2
Aunty Sex Story Bhabhi Sex Story Couple Sex Story Desi Sex Story Family Sex Story First Time Sex Story Girlfriend Sex Story Group Sex Story Hindi Sex Story Maa Beta Sex Story Porn Story Romantic Sex Story XXX Story

मेरी सैक्सी मम्मी का पहला ग्रुप सैक्स -2

मम्मी भी नशे मे नीरज ओर मोहन को गंदी गंदी गालीया देने लगी – कुतो, हरामी बहनचोदो चोदो मुझे जोर से, हरामी की ओलादे चोद भी नही सकती, चोद चोदकर मेरी चुत का पानी निकाल दो… मादरचोदो… जोर से आह ओर जोर से चोदो… बहनचोदो… तुम्हारी गांड मे दम नही है क्या भडवो!!

हैलो दोस्तो केसै है आप सब उम्मीद करता हू आप सब स्वस्थ ओर मोज मस्ती से अपना लोकडाऊन काट रहै होगे जैसे की अब तक आपने इस मम्मी की ग्रुप सेक्स चुदाई कहानी में पढा। 

पिझला भाग – मेरी सैक्सी मम्मी का पहला ग्रुप सैक्स 👩‍🦰•🧔•👲•👱‍♂️•👨‍🦱

प्लीज कहानी को पूरा पढ़ना ऐसी गज़ब की सीरीज है ये जिसे अबतक लाखो लोग पद चूका है और माँ की अन्तर्वासना सीरीज का 16 भाग है। कहानी बहुत ही सेक्सी, जबरदस्त चुदाई, गाली से भरी है, प्लीज पूरी पढ़ना🙏🙏। 

जैसे ही किशन का लंड मम्मी पूरा निगलती वेसै ही किशन मम्मी के सिर को दबा लेता जिससे मम्मी की सांसे अटक जाती। मगर मम्मी को किशन के विशालकाय लंड को चुसकर बहुत मजा भी आ रहा था। इधर रवि भैया बैड के नीचे बैठकर मम्मी की गांड के छेद को अपनी जीभ से गीला कर के चाटने लगे। 

मम्मी किशन का लंड चुसते हुए अपनी मोटी गांड को रवि के मुह के सामने हिला रही थी। रवि ने तभी मम्मी की गांड पर एक जोरदार थप्पड मारा, तो किशन के लंड को मुह से निकालकर मम्मी ने जोर की आह भर दी, 

ओर कहा – हा रवि जोर से मार जान 

रवि ने अब गांड की दोनो तरफ थप्पड मारकर कमरे को गुंजा दिया मम्मी उत्तेजित होकर किशन का लंड जोर से चुसने लगी। 

रवि की जीभ की मम्मी को आदत हो गयी थी उसकी जीभ लगते ही मम्मी स्वर्ग मै सैर करने लगती मोटे लंड की चुसाई ओर रवि की जीभ के जादु के आगे मम्मी सिर्फ दस मिनट ही टिक सकी ओर एकबार फिर मम्मी का बदन अकड़ने लगा। 

रवि ने अब अपनी दो उंगली मम्मी की चुत मै डाल कर चुत की चुदाई करने लगा दो मिनट मै ही मम्मी ने रवि की उंगली पर रस फैक दिया ओर रवि ने कामरस से भरी उंगलियो को चाट लिया ओर फिर चुत से निकल रहै रस को अपनी जीभ से चाट लिया। 

अब रवि खडा होकर अपने हाथ से मम्मी की गांड को दबा रहा था ओर आगे मम्मी किशन के लंड को जोर से चुस रही। तभी किशन ने मम्मी के मुह को अपने लंड पर दबा दिया किशन का लंड गले के आखिर मै पहुच गया था। जिससे मम्मी को सास भी लेने मे दिक्कत हो रही थी। 

मम्मी के किशन के लंड से उम्मीद से ज्यादा रस निकला एक मिनट के बाद किशन ने अपना लंड मम्मी के मुह से निकाला तो किशन का माल भी किशन के लंड के साथ उसके पेट पर फैल गया। 

मम्मी ने पहले जोर की सास ली ओर अपने आंखो मे आए आंसू को साफ किया। 

फिर मम्मी ने किशन के पेट पर गिरे माल को चाटा ओर उसके मुरझा रहै लंड को अच्छे से चाटकर साफ कीया, मम्मी आज बिना चुदाई के ही चार बार झड चुकी थी अब तक। ओर उधर रवि का लंड बाकी था झडने के लिए तभी मम्मी बैड के नीचे पैर लटकाकर बैठ गयी ओर रवि को अपने पास बुला लिया। 

रवि को नीचे झुकाकर मम्मी ने कीस कीया ओर रवि की निपल को चुमने लगी रवि की नाभी पर कीस कर के मम्मी ने रवि के लंड को मुह मे भर लिया ओर रवि की गांड को पकड लिया रवि लंड भी बहुत देर से खडा था। 

ओर उत्तेजित होकर रवि का लंड भी अब ज्यादा देर तक टिक नही पाया ओर रवि ने अपना सारा माल मम्मी के मुह मे गिरा दिया। इस तरह पहले दोर मे मम्मी चार बार झड चुकी ओर उधर चारो जने सोफै पर बैठ गये, Group Sex Stories पढकर आपको बहुत मजा आया होगा। उम्मीद करता हू आगे भी आपका मजा बरकरार रहेगा। 

ये मम्मी का पहला ग्रुप सेक्स था मगर आखरी नही इसके बाद मम्मी को बहुत बार ग्रुप सेक्स करने का मोका मिला जिसका मम्मी ने जमकर फायदा उठाया। मम्मी को मोका मिलना चाहिए था बस ग्रुप सेक्स का तो खैर अब हम आगे की Mom Sex Story की ओर बढते है। 

जैसा की आपने अब तक पढा रवि किशन मोहन ओर नीरज का रस मम्मी ने गटक लिया ओर बदले मे चारो से मम्मी का कामरस पी लिया। अब सभी लोग नंगे सोफै पर बैठ गये रवि ने मोहन से पूछा शराब कितनी है, 

तो मोहन ने कहा – तीन दिन ही खत्म ना हो उतनी है ओर हंसने लगे 

रवि ने पांचो गिलास मे एक पटियाला पैग बना लिये ओर सबने चियर्स कर के अपना पेग खत्म कर दिया। मोहन बैग से दूसरी बोतल निकाल लाया खडा होकर मम्मी रवि से चिपककर बैठी थी मोहन ने बोतल खोलकर रवि को दे दी रवि भैया ने पहले वाली बोतल से दो गिलास पटियाला पेग बनाए। 

ओर फिर बाकी तीन गिलास नयी बोतल से भरकर एकबार फिर से चियर्स कीया ओर पेग खीच लिये दो पटियाला पीते ही मम्मी की बती बुझने लगी इधर रवि ने मोहन से सिगरेट का पूछा, 

तो मोहन ने कहा – बाहर गैलरी मै है 

रवि ने मम्मी का हाथ पकडा ओर दोनो नंगे गैलरी मै चले गये। गैलरी की तरफ बिलकुल अंधेरा था वहा कोई मकान नही होने के कारण दोनो आराम से नंगे खडे थे। रवि ने गैलरी की दिवार पर पडी सिगरेट के पेट से सिगरेट निकाली जोर जलाकर एक जोर का कश लगाया। 

मम्मी रवि की बाहो मे चिपककर खडी थी तभी रवि ने एक कश ओर खींचकर मम्मी की तरफ सिगरेट कर दी मम्मी थोडे से नशे मे थी, तो उन्होने भी जोर से कश खीच लिया ओर मम्मी को खासी आने लगी। 

रवि ने मम्मी की पीठ मसल दी ओर कहा – जान आराम से!!! चलो अब छोटा सा कश लगाओ!! 

तब मम्मी ने हल्का सा कश खीचा ओर सिगरेट का धुआ अंदर पी गयी ओर धीरे धीरे धुआ बाहर निकाला ओर सिगरेट रवि ने ले ली। 

रवि ने दो कश लगाकर सिगरेट को अपने हाथो से ही मम्मी के होठो पर लगा दी मम्मी ने पहला कश छोटा लगाया ओर फिर बडा कश लगाकर सिगरेट पी गयी। 

दोनो सिगरेट खत्म करके अंदर आ गये। 

तभी रवि ने मोहन ओर नीरज को बेड पर जाने को कहा किशन ओर रवि सोफै पर बैठ गये। रवि ने मम्मी को किस कीया, 

ओर कहा – जान जाओ मजे करो! 

मम्मी रंडी की तरह गांड मटकाकर बेड पर पहुंच गयी! 

ओर मोहन के उपर सो गयी मोहन मम्मी को किस करने लगा मम्मी भी मोहन की जीभ से जीभ मिलाकर मजे करने लगी। 

कुछ देर मे मम्मी की चुदास भडक उठी! 

तो मम्मी ने बैठकर मोहन का लंड पकडा तो चुत पर सेट कर के लंड को दो बार मे चुत मे निगल गयी मोहन ने दोनो दूध को अपने हाथो मे भर लिया ओर जोर से दबाने लगा। नशे ओर सैक्स की मस्ती मै मम्मी जोर जोर से चिल्लाने लगी। 

मोहन भी अपनी गांड उठाकर मम्मी की चुत मे अपना लंड पेलने लगा तभी रवि ने नीरज को पिछे से चलने का कहा तो मोहन ने मम्मी को अपनी छाती पर चिपका लिया ओर लंड को झटके देना बंद करके के मम्मी को कसकर पकड लिया। 

इधर नीरज ने मम्मी की गांड को फैलाकर ओर अपने लंड के सुपारे को थूक से गीला कर के गांड के छेद पर टिका दिया। मम्मी की सासे तेज हो गयी थी आज पहली बार मम्मी की गांड ओर चुत मै एकसाथ लंड जाने वाले थे, तभी नीरज ने आधा लंड गांड मै ठोक दिया मम्मी की जोर से आह! निकल गयी। 

तभी नीरज ने दूसरे झटके मे पूरा लंड गांड मै पेल दिया मम्मी अब जोर से चिल्लाह उठी तभी मोहन ने मम्मी के होठो को अपने होठो से चिपका दिया जैसे ही नीरज ने गांड की ठुकाई करनी शुरू की वेसै ही मोहन ने भी अपनी गांड उठाकर मम्मी की चुत की ठुकाई करने लगा। 

दोनो जवान लंड ने मम्मी की चुत ओर गांड मे तुफान ला दिया था मम्मी की उम्मीद से बढ़कर मम्मी को इस खेल मे मजा आ रहा था। 

मम्मी अब नशे मे नीरज ओर मोहन को गाली देकर भड़काने लगी – कुतो क्या हुआ बस इतनी ही ताकत है क्या??!! मधेर्चोद!! 

गालिया सुनकर मोहन ओर नीरज भी भडक गये, 

ओर मम्मी को गाली देकर चोदने लगे – रंडी आज तेरी सारी खुजली मिटा देगे चोद चोद के, तेरी गांड ओर चुत को सुजा देगे!! 

मम्मी ने कहा – रहने दो तुमसे नही होगा… ये कुतो जोर से चोदो… देखती हू कितना दम है तुम्हारे लंड मै… लगा दो सारा जोर… 

करीब दस मिनट के राऊड के बाद मम्मी मोहन के लंड पर झड गयी तो मोहन की जाघो पर मम्मी का कामरस फैल गया मोहन ने नीरज को नीचे आने को कहा नीरज ने गांड से अपना लंड निकाला ओर एक तरफ लेट गया। 

मम्मी बिना कहे ही खडी हुई ओर नीरज के लंड को अपनी चुत पर सेटकर कर चुत मे पूरा ले लिया! 

चिकनी चुत मे नीरज का लंड आराम से पूरा घुस गया तभी नीरज ने मम्मी के दूध को पकडकर नीचे खीच लिया ओर मम्मी के होठो पर अपने होठ लगा दिये। 

तभी मोहन ने गांड फैलाकर अपने लंड को गांड मे डाल दिया ओर गांड मे झटके मारने लगा नीरज भी अब चुत मे झटके मारने लगा। मम्मी सेडवीच की तरह चुदने लगी। नीरज ओर मोहन 15 मिनट चुदाई करने के बाद दोनो ने अपने माल से मम्मी की चुत ओर गांड को भर दिया नीरज के माल गिराते ही मम्मी ने भी कामरस छोड दिया। 

दो मिनट वो ऐसे ही पडे पडे सुस्ताते रहै मोहन ने अब अपना लंड गांड से निकाला ओर मम्मी बेड पर पलट कर जोर से सासे लेने लगी। मम्मी की गांड ओर चुत से रस निकलकर बेड की चद्दर पर टपकने लगा, नीरज ओर मोहन गैलरी मे चले गये सिगरेट पीने। 

ओर तभी रवि ओर किशन ने मोर्चा संभाल लिया रवि मम्मी के उपर आकर उनको किस करने लगा, मम्मी भी रवि को किस करने किशन भी बेड पर बैठकर मम्मी के दूध को दबाने लगा। 

तभी रवि ने मम्मी को अपने लंड पर बैठने को कहा तो मम्मी ने खडे होकर रवि भैया का लंड अपनी चुत मे ले लिया ओर उनसे लिपटकर उनको चुमने लगी। 

तभी किशन मम्मी की गांड पर अपना लंड घिसने लगा जिससे मम्मी की सासे रूकने लगी क्योकी किशन का लंड रवि भैया के लंड से बडा ओर मोटा था मोहन के वीर्य से मम्मी की गांड चिकनी हो गयी थी। तभी किशन ने अपने लंड का सुपारा मम्मी की गांड मे डाल दिया ओर अपने मोटे लंड को धीरे धीरे मम्मी की गांड मे पेलने लगा। 

किशन ने इतनी आराम से गांड मे लंड डाला की मम्मी को बिलकुल भी दर्द नही हुआ गांड चिकनी होने के कारण ओर रवि भैया के लंड खाकर मम्मी की गांड का गोदाम तो बन ही चुका था। 

पहले ही अब किशन ने अपना लंड बाहर निकालकर एक जोर के झटके से पूरा लंड गांड मे ठोका, 

तो मम्मी के मुह से निकल पडा – मर गयी!!! रवि जरा आराम से!! 

सुनकर किशन जोश मै आ गया ओर जोर से गांड मे लंड पेलने लगा इधर रवि भैया ने भी अपनी गांड उठाकर चुत मै लंड के झटको की गति बढा दी। 

दो मूसल से लंडो से मम्मी की चुत ओर गांड का भर्ता बनने लग गया मम्मी हाय ओ रे जोर से सी सी हाय रवि ओ रवि कहकर जोर जोर से चिल्लाने लगी। दोनो लंड अपनी गति से मम्मी की चीखे निकलवाने मे लगे रहे करीब 15 मिनट के घमासान के बाद मम्मी की चुत का झरना बहने लगा। 

तो रवि ने अब किशन को नीचे आने को कहा किशन ने जैसे ही अपना लंड गांड से निकाला तो मम्मी की गांड का भूरा छेद खुला ही रह गया, और वो बोला इसकी गांड का तो का तो भोकला बन गया जैसे Antarvasna Story की रंडियो का हाल होता है। ओर अब मम्मी किशन के लेटते ही किशन के विशालकाय लंड को पकडकर अपनी चुत पर सेट कर लिया। 

ओर धीरे धीरे किशन का पूरा लंड अपनी चुत मे ले लिया ओर गांड उठाकर किशन के लंड को सेट कर के किशन पर लेट गयी किशन पर लेटते ही मम्मी ने रवि को गांड हिलाकर गांड की चुदाई करने का आमंत्रण दिया। तो रवि ने एक ही झटके मे पूरा लंड गांड मे उतार दिया मम्मी ने भी रवि के झटके के जवाब मे अपनी गांड को रवि के लंड की तरफ धकेल दिया। 

ओर हाय रवि मेरी जान कहकर, रवि को उत्तेजित करने लगी किशन बार बार रवि की तारीफ सुनकर जोश मे आकर गांड उठाकर जोर जोर से चूत मे झटके मारने लगा। 

मम्मी दो लंडो को गपा गपा खाने लगी ओर अपनी कामूक आवाजो से दोनो को उत्तेजित करने लगी इधर रवि ओर किशन का स्टेमिना मोहन ओर नीरज से दुगना था। 

इसलिए वो दोनो अब मस्त चुदाई कर रहै थे इस बीच मोहन ओर नीरज बेड पर आ गये ओर मम्मी के हाथ पकडकर अपने लंड पर रख दिये मोहन का लंड फिर से खडा हो गया। तो मोहन ने अपना लंड मम्मी के मुह मे डाल दिया अब मम्मी की चुत गांड ओर मुह की चुदाई एकसाथ हो रही थी। 

मम्मी के हाथ मे नीरज का लंड था जो अब पूरी तरह से खडा था इधर किशन ओर रवि की चुदाई से मम्मी की चुत ओर गांड मे दर्द होने लगा था। 

मगर अभी दर्द होना बाकी था इधर किशन ओर रवि जोर से चुदाई कर रहै तो उधर मम्मी भी जोर से मोहन का लंड चुसने लगी करीब 15 मिनट के राऊड के बाद ही मोहन ने अपना रस मम्मी के मुह मे भर दिया। 

मगर रवि ओर किशन अभी भी पेलने मे लगे थे मम्मी को तभी मम्मी ने नीरज की तरफ मुह कीया ओर मोहन के रस को चाटते हुए ही नीरज के लंड को मुह मे भर लिया इधर मोहन के बाद मम्मी की चुत ने भी पानी छोड दिया। 

अबतक मम्मी ने दसबार पानी छोड दिया जिससे मम्मी के बदन मे दर्द होने लगा था मगर दर्द को भुलाकर मम्मी सिर्फ चुदाई का मजा लेना चाहती थी। आज रात करीब 40 मिनट की जोरदार चुदाई के साथ रवि ओर किशन झडने को हुए तो रवि ने अपना लंड बाहर निकाल लिया, 

ओर किशन को पूछा – किशन कितनी देर ओर लगेगी 

तो किशन ने कहा – बस दो मिनट ओर 

तो रवि ने कहा – माल मुह मे छोडना है 

ये सुनकर किशन ने झटके मारने बंद करके लंड बाहर निकाल दिया। मम्मी ने नीरज के गोटे दबाए तो एक मिनट मे ही रवि ने अपना माल मम्मी के मुह मे छोड दिया। 

नीरज को फ्री करते ही मम्मी ने रवि के लंड को मुह मे ले लिया ओर चुसने लगी रवि भैया भी एक मिनट मे झडने लगे मम्मी ने सारा माल निचोड़कर गटक लिया ओर अब बेड पर लेट रहे किशन का लंड झुककर मे मुह मे भर लिया। 

किशन ने एकबार फिर मम्मी के सर को दबा लिया ओर गांड उठाकर मम्मी के मुह को चोदने लगा दो मिनट के बाद किशन के लंड ने ढेर सारा माल उगल दिया गले मे लंड फसने के कारण, माल नही पी सकी मम्मी ओर लंड को बाहर निकाल दिया। 

किशन का माल एकबार फिर से पेट ओर जाघो पर गिरा जिसे मम्मी ने बडे प्यार से चाटकार साफ कर दिया इस तरह चुदाई का पहला राऊड पूरा हो गया। 

मम्मी के चेहरे से थकान दिखने लगी थी रवि को रवि मम्मी को लेकर सोफे पर बैठ गया रवि ने गिलास मे पानी डाला ओर मम्मी को अपने हाथो से पानी पिलाने लगा। पानी पीकर मम्मी को कुछ राहत मिली तभी मोहन ने शराब की बोतल रवि को दे दी, रवि भैया ने एकबार फिर पटियाला पेग बनाए ओर सबने अपना अपना गिलास उठाकर चीयर्स कीया ओर पीने लगे।
शराब खत्म करने के बाद किशन ने मम्मी को कहा – भाभी जी आप तो कमाल की हो!! बुरा तो मानो तो एक बात कहू 

तो मम्मी ने कहा – बोलो किशन 

तो किशन ने कहा – अगर आप चाहे तो हम आपको एक घर दिला सकते है जो आपके नाम पर होगा! एडवांस पैसा भी होगा आपके खाते में, आप हमारे साथ रहना चाहो तो, 

तब मम्मी ने कहा – किशन मे चाहती तो रवि के साथ ही भाग सकती थी, रवि भी तैयार था, ओर मुझे रवि बहुत पसंद भी है, ये सब रवि के कहने पर ही कर रही हू, रवि मेरी जान है! 

तुम चुदाई कितने साल तक कर लोगे, जब चोदने की हिम्मत ना रहेगी तो मै कहा जाऊगी, 

ओर बुढापे मे मेरी खबर कोन लेगा, इसलिए ज्यादा भावुक मत हो ओर चुदाई का मजा लो, 

ओर रवि को धन्यवाद करो जिसके कारण तुम्हे मेरी चुत चोदने को मिली!! 

ये सुनकर रवि मन ही मन शर्मिदा होने लगा ओर सोचने लगा – भाभी मुझे चाहती ओर मेने इसका गलत फायदा उठाया, 

ओर इसी बीच पेग खत्म होने पर रवि ने एक पेग और बना दिया सबके लिए इस तरह दूसरी बोतल भी खाली हो गयी रवि की नजर घडी पर गयी। तो दो से भी ऊपर का समय हो गया था रवि ने मम्मी को गैलरी मे चलने को कहा तो मम्मी ने अपना गिलास उठाया ओर गेट खोलकर गैलरी मे आ गयी। 

रवि भी पीछे पीछे आ गया, रवि ने गिलास को दिवार पर रखा ओर सिगरेट लगा ली, रवि ने कस मारकर सिगरेट मम्मी को दे दी। मम्मी ने दो कश लगाकर सिगरेट फिर से रवि को दे दी, रवि ओर मम्मी ने सिगरेट के साथ अपने पेग को खत्म कर लिया। 

रवि ने मम्मी को बाहो मे भरकर गले लगा लिया ओर कान मे धीरे से सोरी-सोरी कहने लगा! 

मम्मी ने कहा – रवि क्या हुआ, हम अपने कमरे मे जाकर बात करेगे जो भी बात है, अब तुम अपनी इच्छा पूरी करो खुलकर जैसे तुम उन Hindi Sex Story की किताबो में पढ़ते थे, ओर ग्रुप सेक्स का मजा लो! 

रवि खामोश हो गया ओर मम्मी को कहा – ठीक है! 

💜इसे भी पढ़े – गांडू के कारण मां वहन रंडी बनी2

भाभी दोनो बाहर आ गये ओर सोफै पर बैठ गए तभी मोहन ने तीसरी बोतल खोल दी ओर रवि को दे दी रवि ने एक एक ओर पटियाला पैग बना दिया। सबने गिलास उठाकर चीयर्स की ओर अपना गिलास खाली करने लगे मम्मी को अब मस्ती चढ गयी थी। 

पूरी मम्मी खडे होकर अब अपनी गांड को हिलाकर दिखाने लगी जिससे सभी के लंड मे तनाव आने लगा मम्मी की गांड मार मारकर रवि ने भैया ने ओर मोटी कर दी थी। 

गांड मरवाने के कारण मम्मी की गांड अब मुलायम और बहुत ही नर्म हो चुकी थी एकबार गांड हिलाने पर कई देर तक गांड हिलती रहती थी। मोहन खडा होकर मम्मी की गाड से चिपक गया ओर घुटनो के बल बैठकर गांड पर पप्पीया करने लगा। 

ये देखकर नीरज भी खडा हुआ तो मम्मी के आगे जाकर मम्मी की चुत को चुसने लगा इस बार शराब के नशे मे दोनो जने ने मम्मी की गांड ओर चुत को 15 मिनट तक चाटा जिससे उत्तेजित होकर मम्मी की चुत ने पानी छोड दिया। 

मम्मी अब बेड पर पसर गयी उधर मोहन भी मम्मी के बगले लेट गया ओर अपने ऊपर ले लिया मोहन ने नीचे से अपने लंड को मम्मी की चुत मे डाल दिया मम्मी ने हल्की सी आह भरी ओर मोहन के होठो पर अपने होठ लगा दिये। नीरज ने भी मोका देखकर मम्मी की गांड मे लंड घुसैड दिया नीरज ओर मोहन अब जोश मे आकर मम्मी को पेलने लगे। 

मम्मी भी नशे मे नीरज ओर मोहन को गंदी गंदी गालीया देने लगी – कुतो, हरामी बहनचोदो चोदो मुझे जोर से, हरामी की ओलादे चोद भी नही सकती, चोद चोदकर मेरी चुत का पानी निकाल दो… मादरचोदो… जोर से आह ओर जोर से चोदो… बहनचोदो… तुम्हारी गांड मे दम नही है क्या भडवो!! 

नीरज गांड मारते हुए रवि की तरह गांड पर थप्पड मारने लगा जोर जोर मोहन ने मम्मी के बालो को पकड लिया ओर खीचने लगा जोर से तीनो के बीच बहुत ही गर्मा गर्म चुदाई होने लगी। 

जोश मे आकर चुदाई करने पर भी मोहन ओर रवि डटे रहै करीब 20 मिनट की चुदाई के बाद मम्मी की चुत को झरना बहने लगा। तो मोहन ओर नीरज ने जगह बदल ली ओर एकबार फिर उसी तरह से जोरदार चुदाई करने लगे 20 मिनट घमासान चुदाई के बाद मोहन नीरज ओर मम्मी एक साथ झड गये। 

इस तरह साढे तीन बज गये अभी रवि ओर किशन तो बाकी थे मोहन ओर नीरज सोफै पर आकर लेट गये इधर बेड पर मम्मी की चुत ओर गांड से माल रिसकर बाहर निकल रहा था। करीब पांच मिनट मम्मी के सुस्ताने के बाद रवि ओर  किशन खडे हुए रवि ने मम्मी को खडा किया ओर उनको किस करने लगा। 

मम्मी का कुछ नशा कम हो गया था मम्मी भी रवि को प्यार से किस करने लगी कुछ देर किस करने के बाद रवि ने मम्मी को गोद मे उठा लिया मम्मी ने अपना हाथ नीचे कर के रवि के लंड को अपनी चुत पर लगा लिया। 

ओर चुत पर दवाब बनाकर लंड को चुत मे ले लिया रवि का लंड चुते जाते ही किशन ने अपना लंड गांड मे डालकर तीन झटको मे लंड को गांड मे ठुस दिया और इसके बाद दोनो मूसल से लंड से चुत ओर गांड की घमासान चुदाई होने लगी मम्मी रवि को किस कर रही थी। 

तो किशन गांड पर थप्पड मार मारकर मम्मी की गांड को बजाने लगा रवि ओर किशन ने जोडी की 20 मिनट की पेलाई से मम्मी की चुत झडने लगी, तो किशन ने अब रवि को पीछे आने को कहा किशन ने भी मम्मी के होठो को किस करते हुए अपनी गोदी मे ले लिया। 

ओर मम्मी ने इसबार किशन के लंड को चुत पर सेट कर के चुत मे ले लिया रवि भैया नीचे बैठकर मम्मी की गांड को चुमने लगे करीब दो मिनट बाद ही रवि भैया ने मम्मी की गांड के खुले हुए भूरे छेद मे अपना लंड डाल दिया ओर झटको की स्पीड बढा दी रवि ओर किशन का स्टेमिना बहुत ही बढिया था।

ओर कुछ शराब का नशा किशन गाली देकर मम्मी को भड़काने लगा – बहुत बडी रंडी है तू तो… कसम से तेरी गांड ओर चुत मै एकसाथ दो दो लंड डालने पर भी तेरी गांड ओर चुत की खुजली नही मिटेगी!! 

ये सुनकर मम्मी ने कहा – हा हरामी तेरे लंड मे जान होती तो, तू दो लंड की बात नही करता कुते… 

असली मर्द होता तो एक लंड से ही मेरी चुत का भोसडा बनाकर मुझे संतुष्ट कर देता… 

ये सुनकर किशन भडक गया, 

ओर कहने लगा – रंडी होकर मुझे बताएगी तु मर्द कोन है की नही ये ले छिनाल खा मेरा लंड 

ओर जोर  से अपना लंड मम्मी की चुत मे पेलने लगा मम्मी की चुत ने इसबार 10 मिनट मे ही पानी छोड दिया। 

तो किशन कहने लगा – फट गयी ना रंडी 

तो मम्मी ने – चोद ना कुते मै रूकी नही हू तू ही रूकेगा गांडू 

ये सुनकर किशन फिर से लंड को पूरी ताकत से अंदर बाहर करने लगा। मम्मी मस्ती से चुदवा रही थी ओर जोर जोर से चिल्लाह कर दोनो का जोश बढाने लगी। 

मगर किशन की गांड जलाने के लिए, 

मम्मी बार बार बोलने लगी – हाय रवि मार डाला… रवि मेरी जान बसकर यार… रवि यूही चोदो यार आह, मेरी जान…!! 

ये सुनकर किशन ओर जोश मे आकर मम्मी की चुत को चोदने लगे करीब 20 मिनट बाद तीनो एकसाथ झड गये। रवि ने अपना लंड बाहर निकाला ओर किशन ने अब मम्मी को अपनी गोद से उतार दिया। 

रवि ने मम्मी को बैड पर लेटा दिया ओर खुद भी बैड पर लेट गया दस मिनट के बाद रवि ने अपने कपडे पहने ओर मम्मी को ब्रा टॉप ओर पजामा लाकर दिया ओर मम्मी ने कपडे पहन लिये। 

इसे भी देखे – दिमाग को हिला देने वाली Porn Stories का मज़ा ले ऐसी अतरंगी चुदाई वाली गज़ब कहानिया की लंड खरा करदे।

रवि ने गैलरी मै जाकर सिगरेट लगाई तो मम्मी ने आकर पीछे से रवि से लिपटकर गयी रवि ने मम्मी के हाथ को पकडा ओर अपने आगे कर के पिछे से चिपक गया। ओर सिगरेट मम्मी को पकडा दोनो ने सिगरेट पी ली तो रवि ने सिगरेट की फैक्ट जैब मै रख ली, 

ओर किशन से कहा – किशन ये दोपो तो सो गये तुम्हे सुबह निकलना है तो आराम कर लो तीन चार घंटे जाते वक्त आ जाना रूम मै ओर मे सिगरेट लेकर जा रहा हू, 

कितने बजे निकलोगे!! 

तो किशन ने कहा – करीब नो बजे 

रवि ने कहा – ओके! सुबह 9 बजे हमे भी उठा देना ओर तुम मिलकर चले जाना किशन ने मम्मी की तरफ आख मार दी। 

ओर मम्मी ने भी हंसकर आख मार दी 

जवाब मे रवि ने कमरा खोला ओर अपने रूम मे आकर एसी चालु कर दिया रवि ने अपने कपडे खोले तो मम्मी ने भी कपडे खोल दिये ओर दोनो नंगे होकर चद्दर मै एक दूसरे से चिपककर सो गये। रवि ओर मम्मी गहरी नींद मै सो रहे थे, 

तभी गेट खटखटाने की आवाज आई! 

तो मम्मी की आंखे खुल गयी मम्मी ने दुबारा आवाज सुनी तो रवि को उठाया रवि ने तोलिया लपेटकर गेट खोला तो सामने रवि के दोस्त खडे थे। वो जाने के लिए तैयार होकर आ गये थे रवि से मिलने के बाद वो मम्मी की तरफ गये। 

तो मम्मी अपने उपर चद्दर लेकर बैठ गयी तभी मोहन आगे बढकर मम्मी के पास पहुंचा ओर आगे लगा लिया मम्मी ने भी मोहन को किस कर दिया। 

तो अब नीरज आ गया नीरज को किस करके फ्री कीया तो किशन पहुंच गया किशन ने कसकर मम्मी को गले लगाया ओर किस करने लगा मम्मी किशन की रात की चुदाई से बहुत खुश हुई थी। तो मम्मी ने किशन को जोर से किस किया रात की चुदाई के लिए तभी किशन ने मम्मी के दूध दबा दिये जोर से जिससे मम्मी की चुदास भडक गयी। 

ओर मम्मी ने भी किशन की पेट पर हाथ रखकर उसके लंड को जोर से दबा दिया अब किशन खडा हो गया, 

ओर मम्मी को कहा – भाभी जल्दी ही आपसे फिर मुलाकात होगी 

मम्मी भी ये सुनकर खुश होकर बोली – मुझे इंतजार रहेगा किशन तुम्हारा 

सब ने हाथ हिलाकर मम्मी को बाय कीया ओर चले गये, 

मम्मी ने रवि को कहा – जान सिरदर्द हो रहा है चाय पीनी है मुझे 

तो रवि ने रिसेप्शन पर फोन करके दो चाय का आर्डर कर दिया, 

तभी मम्मी ने कहा – रवि यार मे पहले घर पर फोन करती हू 

तो रवि ने कहा – जरूर 

तभी मम्मी ने फोन मिलाया ओर उधर फोन पापा ने उठाया तो मम्मी ने पूछा – केसै है आप 

तो पापा ने कहा – सब ठीक है 

मम्मी ने कहा – हम भी तैयार है बस नाश्ता कर के निकलेगे ओर 1 बजे तक पहुंच जाएगे, शशी कॉलेज जाएगी क्या?! 

तो पापा ने कहा – है वो तैयार हो चुकी है अपनी वैन का इंतजार कर रही है 

तो मम्मी ने कहा – चाबी आप दुकान पर ले आना हम दुकान पर ही आ जाएगे, फिर घर पर चले जाएगे, शशी के आने से पहले 

ये सुनकर पापा ने कहा – चलो ठीक है मे ले आऊगा 

मम्मी ने फिर फोन रख दिया, 

रवि भैया मुह धोकर बाहर आ गये तब तक तभी चाय आ गयी मम्मी ने अपना बदन चद्दर मे डाल लिया ओर छिप गयी वेटर ने चाय टेबल पर रखी ओर चला गया। 

रवि ने गेट लॉक किया ओर मम्मी को कहा – जान चाय तैयार है उठ जाओ 

मम्मी खडी होकर मुह धोने बाथरूम मे चली गयी अपनी गांड को हिलाते हुए मुह धोकर मम्मी बाहर आई ओर रवि से चिपककर बैठ गयी बैड पर। दोनो जने चाय पीने लगे चाय पीकर, 

मम्मी ने कहा – रवि सिगरेट तो पिला 

रवि ने सिगरेट जला ली ओर एक कश मारकर मम्मी को सिगरेट दे दी, दोनो जनो से सिगरेट पी ली, 

तभी रवि ने मम्मी को सोरी कहा 

तो मम्मी ने कहा – तुम को रात को भी सोरी बोल रहै मगर क्यो? ये तो नही बताया, 

तब रवि ने कहा – भाभी मेने आपको अपनी इच्छा के लिए अपने दोस्तो के साथ सुला दिया ओर आपने मेरी खुशी के लिए ये सबकुछ कीया! मुझे ये जानकर बडा दुख हुआ!! 

तो मम्मी ने कहा – अगर यही बात है तो फिर हम दोनो जो करते है वो भी तो गलत ही है ना.. रवि कोई बात नही यार… 

तुम्हारे लिए तो मे पूरी रात दस लडको को झैल लू… बस ये बताओ तुम खुश हुए की नही?! 

तो रवि ने कहा – बहुत खुश हू भाभी, मेरी सारी इच्छाए आपने पूरी कर दी, जितनी  मेने अबतक उन XXX Story की किताबो में पढ़ी थी,अब तो मर भी जाऊ तो गम नही!!! 

मम्मी ने कहा – मर गये तो मेरी गांड कोन मारेगा रवि, अभी तो बहुत चुदाई करवानी है, ओर हंसने लगी!! 

तभी रवि ने कहा – धन्यवाद भाभी 

ओर रवि मम्मी के गले लगकर उनके होठो को चुसने लगा ओर उनके दूध को दबाने लगा, रवि का लंड हरकत मे आने लगा रवि ने मम्मी को बेड पर पटक दिया ओर दूध को चुसने लगा। कुछ देर दुध पीकर रवि अब नाभी को चुमकर चुत पर आ गया रवि ने मम्मी की चुत को देखा तो मम्मी की चुत पर सोजन आया हुआ था। 

रवि ने कहा – भाभी तुम्हारी चुत तो सुज गयी है

मम्मी ने कहा – जान कोई बात नही सोजन तो उतर ही जाएगा कल तक, मगर ये यादे तो उम्र भर रहेगी! 

ये सुनकर रवि चुत को चुसने लगा, मम्मी भी गांड उठाकर चुत को रवि के मुह मे ठुसने लगी, दस मिनट के बाद मम्मी ने अपना कामरस रवि के मुह मे छोड दिया। 

रवि ने सारा रस चाट लिया ओर बेड के नीचे खडा हो गया मम्मी की कमर के नीचे तकिया लगाया ओर उनकी चुत मे लंड को ठोक दिया। इस तरह सुबह सुबह मम्मी ओर रवि चुदाई का मजा लेने लगे  10 मिनट बाद रवि ने मम्मी को घोडी बनाया ओर उनकी गांड को चाटने लगा। 

मम्मी की गांड रात की चुदाई ओर थप्पडो से अभी लाल हो रही थी मम्मी की गांड पर उंगलियो के निशान साफ दिखाई दे रहे थे। मगर मम्मी को इससे कोई फर्क नही पड रहा था बल्की वो गांड हिलाकर रवि के मुह मे ठुस रही थी। 

ओर रवि से कह रही रवि इस चुत ओर गांड को खा जाओ जान बहुत तंग करती है मुझे ये सुनकर रवि ने अपनी जीभ को मम्मी के भूरे छेद मे घुसा दिया मम्मी की आह निकलकर पूरे कमरे मे फैलने लगी। तभी रवि अपने लंड को मम्मी की गांड पर रगड़ने लगे, 

मम्मी घोडी बनी हुई – आह आह आह की आवाजे निकाल रही थी 

तभी रवि ने एक झटके मे अपना लंड मम्मी की गांड मे पेल दिया रवि भैया ने दूसरे झटका लगाकर अपने लंड को मम्मी की गांड के अंदर तक ठोक दिया। मम्मी ने गांड हिलाकर रवि के लंड को एडजस्ट कर लिया ओर खुद ही गांड हिलाकर लंड पर झटके मारने लगी। 

तो रवि भैया ने गांड पर थप्पडो की बारिश शुरू कर दी ओर मम्मी की गांड की ताबडतोड चुदाई शुरू कर दी करीब 15 मिनट बाद मम्मी को बैठने को कहा मम्मी बैड पर पैर लटकाकर बैठ गयी ओर रवि के लंड को मुह मै भरकर चुसने लगी। 

दो मिनट बाद रवि ने अपने माल से मम्मी के मुह को भर दिया मम्मी ने रंडी की तरह माल पीकर रवि के लंड को चाटकर साफ किया, 

ओर रवि को कहा – तुम बैठो मे पेशाब करके ओर हगने जा रही हू 

तभी रवि ने मम्मी का हाथ पकड लिया ओर कहने लगा – भाभी मेरी आखीरी इच्छा तो पूरी कर दो आज 

तो मम्मी ने कहा – रवि अब कोठे पर बैठाकर चुदाई करवाना चाहता है क्या?!! 

ये सुनकर रवि ने कहा – नही जान अपना अमृत पिला दो 

तो मम्मी ने कहा – पेशाब कर आऊ पहले! 

तो रवि ने कहा – जान पेशाब वाला अमृत! 

मम्मी भी चाहती की रवि को पेशाब पिलाऊ कभी 

मम्मी ने कहा – आ जाओ जान तुम्हारी रंडी तुम्हारे लिए सबकुछ करेगी 

ओर दोनो बाथरूम मे घुस गये बाथरूम मे घुसते ही रवि घुटने के बल बैठकर मम्मी की चुत को चुसाने लगा। 

तभी मम्मी ने जोर लगाकर मूतना शुरू कर दिया, रवि मुह खोलकर मम्मी के पेशाब को पीने लगा। रवि का मुह से निकलकर पेशाब रवि की छाती पर बहता हुआ फर्श पर गिरने लगा। 

मम्मी खडी खडी एक मिनट तक मुतती रही जब मम्मी ने मुतना बंद कीया तो रवि ने मम्मी की चुत पर लगी पेशाब की बूंदो को चाटकर साफ कर दिया। ओर तभी मम्मी इंग्लिश सीट पर बैठकर हगने लगी 

तो रवि भैया ने कहा – भाभी अब मेरा पेशाब का स्वाद चख लो! 

तो मम्मी ने अपना मुह खोलकर रवि को कहा – करो!!! 

रवि ने अपना सोया लंड मम्मी के मुह मे डाल दिया ओर जोर से मम्मी के मुह मे पेशाब करने लगा!! 

मम्मी रवि के पेशाब को गट गट करके पीने लगी, मगर प्रेशर इतना ज्यादा था की पेशाब मुह से निकलकर दूध पर बहते हुए सीट के अंदर गिरने लगा। 

रवि भैया एक मिनट तक पेशाब करते रहै ओर पेशाब आना बंद हुआ तो मम्मी रवि के लंड को चाटकर साफ करने लगी। 

तभी रवि ने कहा – भाभी जल्दी करो एक राऊड ओर करके निकलते है हम 

ये सुनकर मम्मी अपनी गांड को धोने लगी, 

गांड धोकर मम्मी ने कहा – रवि नहा लेते है यार पहले 

तो रवि ने कहा – पहले चुदाई कर लेते है फिर एक साथ नहा लेगे 

ये सुनकर मम्मी ओर रवि बाहर आ गये, मम्मी बैड पर अपनी टांगो को फैलाकर रवि को चुत चुसने के लिए कहा तो रवि ने मम्मी को 69 पोजीशन का कह दिया रवि ओर मम्मी 69 मे आ गयी। तुरत ही रवि ने मम्मी की चुत को चुसने लगा तो मम्मी ने भी रवि के लंड को मुह मे भर लिया मुह मे लेते ही रवि भैया का सोया लंड मुसल बनने लगा। 

मम्मी रवि के लंड को गपा गप मुह मे लेकर चुसने लगी ओर अपने हाथो से रवि की गांड को दबाने लगी इधर रवि भैया मम्मी की चुत को अपनी जीभ के साथ उंगली डालकर मम्मी की चुदास भडकाने लग गये चुत पर हुए दोहरे हमले ओर लंड पर लगी पेशाब की खुशबु से मम्मी की चुदास भडकने लगी। 

करीब दस मिनट के बाद मम्मी ने रवि के सर पर केची बनाकर अपनी जाघो से रवि के सर को चुत पर दबा दिया तो रवि इशारा समझकर चुत को जोर से चाटने लगा ओर मम्मी ने उत्तेजित होकर अपना नमकीन रस छोड दिया जिसे रवि प्यार से चाटने लगा मम्मी ने अपनी जाघो की पकड से रवि को आजाद कर दिया। तो रवि भैया बैड पर लेट गये ओर मम्मी को उपर चढने का कहा मम्मी ने रवि के लंड को चुत पर लगाया। 

ओर उसपर बैठकर लंड को निगल लिया मम्मी ने अपनी मोटी गांड को हिलाकर लंड को सेट कर लिया ओर अब रवि के उपर लेट गयी रवि भैया अपने होठो को मम्मी के होठो से मिला दिया ओर दोनो जीभ को कभी होठो को चुमने लगे। 

इसे भी देखे – कामुक भाभी की गज़ब Bhabhi Sex Stories स्टोरीज जिन्हे पड़के अपनी भाभी को भी चोदने न मन करे।

रवि भैया गांड उठाकर मम्मी की चुदाई करने लगे जोर से मम्मी चुद चुदकर थक चुकी थी ओर सुबह से खाली पेट होने के कारण ज्यादा देर तक रवि के लंड को नही झेल पाई ओर रवि के लंड पर झडने लगी तभी रवि ने मम्मी को सामने मुह करने को कहा ओर खडे होकर गांड मे लंड लेने को कहा मम्मी ने खडे होकर अपने पेरो को फैलाकर रवि के मुह की तरह पीठ कर ली ओर अपने हाथ से लंड को पकडकर अपनी गांड के छेद पर रख दिया। 

मम्मी के रस से सना रवि भैया का चिकना लंड चमक रहा था मम्मी ने आराम से लंड को अपनी गांड मे ले लिया तभी रवि भैया बैठ गये ओर पीछे से हाथ दूध पर रखकर दबाने लगे। 

तो मम्मी कूदकर कूदकर अपनी गांड मे रवि के लंड को लेनी लगी इधर रवि मम्मी की गर्दन को चुमने से पूरी ताकत से मम्मी के दोनो दूध को दबा रहा था जिससे मम्मी की चीखे निकलने लगी दस मिनट लंड पर कूदने के बाद मम्मी की हिम्मत नही रही तो रवि भैया ने मम्मी को लेटा दिया ओर मम्मी के उपर आकर उनकी चुत मे लंड पेल दिया। 

मम्मी 10 मिनट चुदने के बाद अपने नाखून से रवि की कमर को नोचने लगी जोर से रवि भी इससे उत्तेजित हो गया बहुत ओर कुछ देर की चुदाई के बाद दोनो अपने चरम पर पहुंच कर झडने लगे मम्मी अब बिलकुल निढाल होकर पडी थी, दस मिनट दोनो यू ही पडे रहे मम्मी की खडे होने की हिम्मत ही नही हो रही थी। 

रवि ने खडे होकर मम्मी को बैड से नीचे उतारा ओर अपनी गोद मै उठाकर बाथरूम मे ले गया बाथरूम मे जाते ही मम्मी को गोद से उतारकर रवि ने शावर चालू कीया, तो मम्मी के जिस्म मे कुछ जान आई रवि ने मम्मी के बदन पर साबुन लगाया ओर फिर अपने बदन पर साबुन लगाया। रवि ने साबुन लगी उंगली को चुते ओर गांड मे घुसा दिया जिससे मम्मी मस्त होकर आह भरने लगी। 

फिर से तभी रवि ने शावर फिर से चला दिया ओर दोनो जने नहाकर बाहर निकले मम्मी ओर रवि तोलिया लपेटकर बाहर निकले ओर अब दोनो तैयार होने लगे। मम्मी ने बेग से ब्रा ओर पेटी निकालकर पहनी ओर फिर लाल रंग का पेटीकोट ब्लाउज पहनकर लाल रंग की बनारसी साडी पहनने लग गयी।

रवि भैया ने जीन्स टीशर्ट डाली ओर बाल बनाकर रिसेप्शन पर नाश्ते का आर्डर कर दिया मम्मी अब ड्रेसिंग के सामने बैठकर अपने बालो मे तैल लगाकर चोटी बनाने मे लग गयी मेरी मम्मी के लंबे बाल उनकी गांड तक आते है ओर चोटी बनाकर जब वो चलती है तो नागिन की तरह उनकी चोटी हिलती है मम्मी ने अब लाल रंग की लिपस्टिक लगाई ओर रवि की तरफ देखकर हंसने लगी रवि भी मुस्करा दिया इसी बीच वेटर नाश्ता लेकर आ गया तो दोनो ने कुर्सी पर बैठकर नाश्ता कीया ओर हाथ धोकर रवि ने मम्मी को चलने को कहा। 

तो मम्मी ने कहा काश रवि हर रात यू ही हो तो मजे ही आ जाए जिंदगी के ओर हंसने लगी रवि ने कहा भाभी काश ये हो पाता रवि ने मम्मी की बैग उठाई ओर कमरे को खोलकर बाहर निकल आया रवि ओर मम्मी रिसेप्शन पर आ गये ओर कमरे की चाबी दे दी कमरे का बिल रवि भैया के दोस्त देकर चले गये थे। 

ओर पार्किंग मे जाकर दोनो जने जीप मे बैठकर रवाना हो गये ठीक 12 बजे रवि की जीप हमारी दुकान पर पहुंच गयी रवि ओर मम्मी उतरकर दुकान मे चले गये। 

पापा ने रवि को पूछा – रस्ते मै कोई दिक्कत तो नही हुई 

रवि ने कहा – नही कोई दिक्कत नही हुई 

मम्मी ने चाबी मागी तो पापा ने चाबी निकालकर पकडा दी 

तो मम्मी ने कहा – मुझे कुछ समान लेना है बाजार मे, आई हुई हू कुछ पैसे दे दो, ताकी समान ले जाऊ, 

पापा ने मम्मी को दो हजार रूपये दे दिये, 

ओर मम्मी ने रवि को कहा – चलो रवि लेट हो रही है 

पापा ने कहा – रवि शाम को घर पर खाना खा लेना 

तो रवि ने कहा – ठीक है 

ओर दोनो रवाना हो गये दुकान से मम्मी ने रवि को जेन्ट्स गारमेंट की दुकान पर जीप रोकने को कहा तो रवि ने एक अच्छी सी दुकान देखकर जीप रोक दी रवि ओर मम्मी दुकान पर गये। 

तो मम्मी ने दुकानदार से कहा – इनकी साइज की जीन्स ओर टीशर्ट दिखाओ बढिया 

रवि ये सुनकर चोक गया मगर कुछ नही बोला, मम्मी ने रवि के लिए नीले रंग की जीन्स ओर टीशर्ट पसंद की ओर रवि को पहनकर आने को कहा रवि भैया पर नीले रंग की जीन्स ओर टीशर्ट बहुत ही अच्छी लगी। 

मम्मी रवि के पास जाकर देखने लगी तभी दुकानदार ने कहा – अब आपकी जोडी बहुत मस्त लग रही है 

ये सुनकर रवि ओर मम्मी हंसने लगे 

तभी मम्मी ने उनके रूपये पूछे तो अपने पर्स से रूपये निकालकर दे दिये 

रवि ने बाहर निकलते ही कहा – भाभी अभी मोका है चाहो तो शादी करवा लो हमारी जोडी बहुत जमेगी हमेशा यू ही प्यार करूगा आपसे, 

मम्मी ने कहा – रहने दो, तुम तो बड़ी ही तगड़ी Kamvasma sex stories पढ़ते हो! हर रात ग्रुप सेक्स करने की हिम्मत नही है मुझमे, 

ये सुनकर रवि को शर्म आ गयी ओर दोनो जीप मे बैठकर चल दिये तभी कुछ दूर चलकर रवि ने एक साडीयो की दुकान के आगे जीप रोक दी! 

तो मम्मी ने पूछा – यहा क्यो रोक दी 

तो रवि ने कहा – अंदर तो चलो फिर बताऊगा 

रवि ने दुकानदार से बनारसी साडी दिखाने को कहा तो उसने पचासो साडी निकालकर फैला दी रवि ने मम्मी को पसंद करने को कहा तो मम्मी ने मना कर दिया रवि ने फिर एक गुलाबी रंग की बनारसी साडी निकाली ओर पूछा ये केसी लगी। 

तो मम्मी ने कहा – बहुत अच्छी

तो रवि ने साडी पेक करवा दी ओर दूकान से बाहर आ गये बाहर आते ही, 

मम्मी ने डाटकर कहा – रवि इसकी क्या जरूरत थी 

तो रवि ने कहा – जीन्स टीशर्ट की भी जरूरत नही थी मगर मेने ले ली ना 

रवि ने मम्मी को पास एक लेडीज गारमेंट की दुकान मे चलने को कहा 

तो मम्मी ने कहा – अब क्या रह गया है 

रवि तो रवि ने कहा – चलो जान 

रवि ने मम्मी को दो पजामे ओर दो टीशर्ट दिलवा दी ओर दुकानदार से बढिया ब्रा पेटी दिखाने के कहा तो रवि ने सिर्फ लाल रंग मे ही दिखाने को कहा रवि ने दो सेट फैन्सी ब्रा पेटी के भी ले लिये। 

अब रवि दुकान से बाहर निकाला तो मम्मी गुस्से मे लाल हो रही थी! मम्मी चुपचाप बैठी रही कुछ दूर चलने के बाद रवि ने जीप को आइसक्रीम वाले ठेले के पास रोक दिया ओर दो आइसक्रीम ले ली। 

रवि ने मम्मी को आइसक्रीम देते हुए कहा – खा लो कुछ ठंडी हो जाओगी 

मम्मी ने कहा – ठंडी तो सिर्फ तुम्हारे लंड से ही होती हू ये तो सिर्फ बहाना है ओर हंसने लगे 

दो बजे के आसपास दोनो घर पर पहुंच गये मम्मी ने ताला खोला ओर अंदर आ गयी पीछे पीछे रवि मम्मी का समान दोनो हाथो मे उठाकर अंदर पहुंचा ओर मम्मी को गले लगा लिया ओर कीस करके अपने घर चला गया। 

मम्मी ने जल्दी से अलमारी खोली ओर अपनी साडी ब्रा पेटी को रख दिया ओर कपडे बदलते लगी कपडे बदलकर मम्मी जैसे ही बाहर निकाली वेसै ही शशी अंदर आ गयी ओर मम्मी को गले लगा लिया। मम्मी ओर शशी ने मिलकर खाना बनाया ओर खाकर सो गयी दोनो शाम को मै पांच बजे घर पहुंचा तो मम्मी ने दरवाजा खोला ओर मुझे चाय बनाकर दे दी।

तो किसी लगी आपको ये Crazy Sex Story मेरी सैक्सी मम्मी की चुदाई के किस्से जारी रहेगे!!!🤩😍👍

Story Writer – Rohit Kumar, [email protected]

🧡 इसे भी पढ़े – माँ की अन्तर्वासना – एक सेक्सी आत्मकथा🔥💜(Part-1)

🧡 इसे भी पढ़े – मेरी मम्मी ओर पडोस के भैया

🧡 इसे भी पढ़े – मेरी सेक्सी मम्मी ओर रंगीन मामी

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
15k
+1
13k
+1
9k
+1
8k
+1
101
+1
5

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *