/ / चार मुस्लिम लंडो के बीच मम्मी चुदी 🍌🥒🍆🥕
Bhabhi Sex Story Couple Sex Story Desi Sex Story Girlfriend Sex Story Hindi Sex Story Porn Story Romantic Sex Story XXX Story

चार मुस्लिम लंडो के बीच मम्मी चुदी 🍌🥒🍆🥕

आमिर ने पिछे आकर गांड मे लंड उतार दिया इस तरह एक बार फिर मम्मी की चुत का भोसडा ओर गांड का गोदाम बनने लगा नावेद 15 मिनट के बाद अपने चरम पर पहुंच गया ओर मम्मी की चुत मे झडने लगा। मम्मी भी नावेद के गर्म वीर्य की गर्मी से चरम पर पहुंच गयी ओर वो भी नावेद के झडने के बाद झडने लगी। चलिए अब पढ़ते है चार मुस्लिम लंडो के बीच मम्मी चुदी की इस सेक्सी चुदाई कहानी को। पिछले भाग भी जरूर पढ़ना इसे पूरा पढ़ने के बाद।

पिछले भाग – मम्मी बनी रखेल बेगम जान!

मम्मी अपनी तारीफ सुनकर बहुत ही खुश हो रही थी तभी, आमिर ने कहा – नावेद भाई असलम जी से पूछो हमारी बेगम को ओर भोगना चाहेंगे क्या अभी?! 

तो असलम ने कहा – आमिर साहब मेरा मन तो करता है, आपकी बेगम के साथ ही रह जाऊ ओर बस, रात दिन भोगता रहा, 

मम्मी ने कहा – इतना भोगेगे तो जल्द ही ऊब जाएगे! 

असलम ने कहा – अप्सरा से कोई कैसे उब सकता है!!

मम्मी ने कहा – अच्छा…!!!! 

तो असलम ने कहा – जी हा..!! 

तभी आमिर ने सोते सोते ही मम्मी की चुचियो को दबा दिया जोर से असलम ने कहा – आमिर धीरे धीरे बेगम का ख्याल रखो 

तो आमिर ने कहा – यही तो हमारी बेगम की खासियत है नाराज नही होती अपने शोहर से।

तब नावेद ने कहा – आमिर तुम किस्मत वाले हो आज तो तुम्हारी किस्मत से मुझे जलन हो रही है ओर सोच रहा हू की जयपुर से जाऊगा केसै 

मम्मी ने कहा – तो आमिर के पास ही रूक जाओ कोन भेज रहा है 

नावेद ने कहा – ऐसा अपना नसीब कहा 

तो मम्मी ने कहा – आ… जाओ… जब तक हो तब तक तो मोज कर लो!!! 

ये सुनकर नावेद मम्मी के पास आ गया ओर मम्मी को चुमने लगा, मम्मी का मूड भी बनने लगा, वो नावेद को चुमकर उसका साथ देने लगी।

आमिर ने मम्मी को खडा कर लिया अब बैड पर आमिर जाघो को फैलाकर उसके बीच मे बैठकर चुत को चाटने लगा तो नावेद खडा होकर चुचियो को दबाते हुए कीस करने लगा। तभी असलम पिछे आकर बैठ गया ओर मम्मी की गांड को चाटने लगा मम्मी की चुदास अब पूरी तरह भडक गयी ओर वो जोर जोर से आहे भरने लगी।

तभी असलम ने आमिर की दी निशानी के उपर से मम्मी की गांड को भर लिया ओर अपने दांतो से कसकर काट लिया। मम्मी दर्द से चीख पडी, तो नावेद ने मम्मी के होठो को अपने होठो से चिपका दिया मम्मी की चीख अब दबकर ही रह गयी दस मिनट की मर्दाना चुसाई के आगे मम्मी हार गयी ओर उनकी चुत का झरना फुट कर पहने लगा था जिसे आमिर ने बडे आराम से चाटकर साफ कर दिया।

अब आमिर ने खडे होकर मम्मी की एक जाघ मे हाथ डालकर उसे उठा दिया ओर मम्मी की चुत मे लंड उतार दिया चुत मे लंड जाते ही असलम ने पीछे से अपना सुखा लंड गांड मै पेल दिया जिससे मम्मी की गांड मे जलन होने लगी। मगर दो मिनट के बाद मम्मी सामान्य हो गयी ओर अब चुदाई का मजा लेने लगी ओर उनको जोर से चुदाई करने का कहने लगी, 

मम्मी – जोर से चोदो मुझे ओर जोर से! आह आह आह हा जोर से ऐसे ही आह आह आह आह… 

ऐसे ही जोर से ओर जोर से कहकर अपनी चुदवाई करवाने लगी। मम्मी अब कीसी कामुक Mom Sex Story या मिल्फ पोर्न स्टार की तरह चुद रही थी, ओर आमिर ओर असलम के मोटे लंड मम्मी की चुत ओर गांड को दम लगाकर पेल रहै थे।

इधर नावेद बैड पर लेटकर अपना लंड हिला रहा था मम्मी ने नावेद की तरफ देखा तो नावेद ने आख मार दी तो मम्मी ने भी अपने होठो पर जीभ फेरकर उसकी कामवासना ओर भडका दी थी।

आमिर ओर असलम की 15 मिनट की चुदाई के बाद मम्मी दूसरी बार झडने लगी थी मम्मी के झडते ही आमिर ने अपना लंड निकाल लिया ओर अब नावेद ने मम्मी की टांग को उठाकर अपना लंड उनकी गुलाबी चुत मे पेल दिया, 

कमरे मै अब – पटापट! पटापट! पटापट! ओर फचफच! फचफच! फचफच! फचफच! 

की आवाजे आ रही थी जिससे पता लग रहा था। चुदाई बहुत शानदार चल रही थी 15 मिनट चुदने के बाद मम्मी एक बार फिर से झड गयी ओर उनका बदन भी थक गया था मगर उनका मन तो नही भरा था अभी।

तभी मम्मी ने असलम को लेटने को कहा ओर असलम के लेटते ही अपनी गीली चुत मे एकबार मे 7 इच का लंड गटक लिया ओर नावेद को पिछे से चढने का इशारा कीया तो नावेद ने मम्मी की खुली गांड मे एक झटके मे अपना लंड ठोक कर चुदाई करने लगा। मम्मी मस्त होकर चुदवा रही थी ओर वो ताकत लगाकर चोदने लगे 20 मिनट के बाद असलम अपने चरम पर पहुंच गया तो मम्मी भी उसके साथ तीसरी बार झडने को बेताब थी जैसे ही असलम के लंड ने मम्मी की बच्चेदानी पर माल गिराया वेसै ही मम्मी भी जोर से झडने लगी ओर, 

मम्मी – अहह अहह उह्ह येह अम्म हाय हाय 

करने लगी। आमिर दो मिनट असलम ने अपने लंड मम्मी की चुत मे फंसाकर रखे रखा उसके बाद असलम का लंड मुरझाकर अपने आप निकलने लगा तो मम्मी की चुत से असलम का वीर्य भी बहकर उनकी जाघो पर आ गया तो मम्मी ने असलम का वीर्य अपनी उगलिओ से चाटकर उनको गजब का सुकुन मिला। 

इससे अब मम्मी ने नावेद को नीचे आने को कहा तो नावेद बराबर मे लेट गया मम्मी खडी होकर नावेद के लंड पर बैठकर उससे लिपट गयी, 

ओर आमिर को कहा – मेरे मिया कहा हो… आ जाओ गोदाम खाली है… 

तो आमिर ने कहा – बेगम गोदाम तो मत कहो अभी गोदाम नही बना है 

मम्मी ने कहा – बना नही है तो आप तीनो मिलकर बना ही दोगे!!! 

ये सुनकर तीनो हसने लगे!!!

ओर आमिर ने पिछे आकर गांड मे लंड उतार दिया इस तरह एक बार फिर मम्मी की चुत का भोसडा ओर गांड का गोदाम बनने लगा नावेद 15 मिनट के बाद अपने चरम पर पहुंच गया ओर मम्मी की चुत मे झडने लगा। मम्मी भी नावेद के गर्म वीर्य की गर्मी से चरम पर पहुंच गयी ओर वो भी नावेद के झडने के बाद झडने लगी।

आमिर ने अब मम्मी को कुतिया बना लिया तो मम्मी ने नावेद को इशारा कर के उसके लंड को मुह मै भर लिया, उन्होंने बहुत सी Antarvasna की किताबे पढ़ी थी तो उन्हें पता था की आदमी के लंड को खुश कैसे करते है। मम्मी ने नावेद के मुरझाए लंड को चाटकर साफ कीया ओर गांड उठाकर गांड मरवाने लगी। दस मिनट गांड को चोदने के बाद आमिर ने भी अपना माल मम्मी की गांड मे छोड दिया ओर लंड बाहर निकालकर मम्मी के मुह मे दे दिया मम्मी ने आमिर का लंड भी चाटकर साफ कीया ओर वही बैड पर लेट गयी।

चारो जने अपना पसीना सुखाने लगे ओर आराम करने लगे, दस मिनट के बाद मम्मी ने घडी मे देखा तो 12.30 बज चुके थे। 

मम्मी ने आमिर को कहा – आमिर अपने दोस्तो से पूछो अब तो इजाजत है जाने की 

तो असलम ने कहा – इजाजत तो केसै दे, मगर आप कल सुबह फिर आएगी इसलिए अब जाने देगे आपको! 

ये सुनकर मम्मी ने कहा – लगता है असलम का मन भरा नही 

तो असलम ने कहा – मन तो आपसे कभी भरेगा भी नही 

मम्मी की गांड ओर चूत मे मीठा मीठा दर्द हो रहा था जिससे मम्मी बहुत खुश हो रही थी। मम्मी ने उठकर अपने कपडे पहनने लगी। 

तो नावेद ने कहा – एक मिनट रूको तो सही… 

मम्मी रूक गयी… 

तो नावेद मम्मी के पिछे जाकर बैठ गया ओर गांड को चुमने लगा ओर असलम आमिर की दी निशानी के उपर उसने मम्मी की गांड को मुह मे भरकर जोर से काट लिया। 

मम्मी – हाय… रे… जालिम… आ अहह… कह चीख पडी!!! 

तब नावेद ने कहा – कल उस तरफ निशानी देगे बेगम को ओर सब हसने लगे! 

मम्मी ने अपनी ब्रा पेटी पहनी काली साडी पहनकर ड्रेसिंग के आगे जाकर बैठ गयी ओर अपने पर्स से लाल लिपस्टिक निकालकर लगाने लगी फिर चोटी खोलकर दुबारा बनाई ओर अपनी मांग मे पूरी लंबी माग भर ली। 

तो असलम ने कहा – बेगम आपने तो बहुत लंबी मांग भर ली 

तो मम्मी ने कहा – अब आप भी बेगम कह रहे है तो इतने शोहरो की लंबी उम्र के लिए तो मांग लंबी भरनी होनी 

तो असलम ने – वाह बेगम!!! आप सिर्फ बदन से ही नही, बल्कि बोलकर अपनी जुबान से भी खुश कर देती है!

ये सुनकर मम्मी हस दी ओर कहा – मै चलती हू… सुबह मिलते है… 

तो सब खडे हो गये ओर लुगी बाधने लगे, लुगी बाधकर मम्मी ने सबको कीस कीया ओर गले लगाकर सलाम करके घर की ओर रवाना हो गयी। जब आमिर के घर से सब्जी मंडी गयी ओर सब्जी लेने लगी दोपहर मे सब्जी मंडी वाले मक्खी मारते रहते है सभी।

इसलिए सभी सब्जी वाले मम्मी की मोटी गांड ओर चुचियो को देखकर उन्हे खा जाने वाली नजरो से देखकर अपने लंड को मसलने लगे। मम्मी भी झुककर सब्जी डाल रही थी सब्जी वाले नीचे दुकान लगाकर बैठते है तो मम्मी झुककर सब्जी ले रही थी। झुकने के कारण उनकी चुचियो को देखकर सब्जीवाले भैया की हालात खराब होने लगी, आसपास के दोनो सब्जीवाले मम्मी के सेव जैसी चुचियो को घुर कर देख रहे थे। तो पीछे की तरह गांड देखकर भी सब्जीवालो की मोज हो रही थी।

मम्मी सब्जी लेकर आई तो कई सब्जीवालो के लंड खडे करकर आयी घर पर मम्मी गांड मटकाकर मस्ती से चलकर घर पहुंच गयी। मम्मी ने घर आकर सभी कपडे खोल फेंके ओर गाऊन पहनकर बेड पर लेट गयी शानदार चुदाई से मम्मी का पूरा बदन दर्द हो रहा था।

कहानी अभी जारी है, पढ़ते रहिये मेरी माँ की अन्तर्वासना की आत्म कथा को, और मिलते है अगले भाग में।

Writer – Rohit Kumar, [email protected]

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
10.5k
+1
9.4k
+1
2k
+1
5k
+1
6
+1
61

Similar Posts

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *