/ / माँ और बेटी की चुदाई – 2
Desi Sex Story Family Sex Story Group Sex Story Maa Beta Sex Story Porn Story Romantic Sex Story XXX Story

माँ और बेटी की चुदाई – 2

अब तक आपने पढ़ा कैसे मैं अपनी मां और आकाश की चुदाई देखकर आकाश के घर जाकर उससे  चुद जाती हूं। अब इससे आगे की माँ बेटी को चोदा कहानी। चुदाई के कुछ दिन बाद मेरी मां मेरे बाप को मेरी शिकायत लगाने लग जाती है।

पिछला भाग – माँ और बेटी की चुदाई

मां – यह लड़की घर में मेरा बिल्कुल साथ नहीं देती सारा दिन आवारागर्दी करती रहती है,कभी अपनी सहेली के साथ कहीं चली जाती है कभी कहीं चली जाती है घर के काम में तो इसका बिल्कुल भी ध्यान नहीं है मुझे तो लगता है यह लड़की हमारे हाथ से निकल चुकी है।

मुझे यह सब सुनकर बहुत ही गुस्सा आता है मुझे यह सोचकर गुस्सा आता है कि केसे मेरी रंडी माँ मुझे मेरे बाप के सामने जलील कर रही है।

मैं गुस्से में घर से निकल जाती हूं और आकाश के पास चली जाती हूं अकाश उस वक्त घर पर ही होता है। जब आकाश गेट खोलता है तो मैं जाते ही आकाश को किस करना शुरू कर देती हूं वह भी मेरा पूरा साथ दे रहा होता है,हम धीरे-धीरे कमरे में चले जाते हैं। 

फिर हम बेड पर लेट कर एक दूसरे को किस करना शुरू कर देते हैं हम दोनों एक दूसरे से जीव से जीव टकरा रही होते हैं। जीभ से जीभ चाट रहे होते हैं वह दोनों हाथों से मेरे बूब्स को दबाने लग जाता है और मेरे टॉप को उतार देता है।  

फिर मेरी पिंक कलर की ब्रा में से मेरे बूब्स को दबाना शुरू कर देता है मैं भी उसकी टीशर्ट को उतार देती हूं और उसकी छाती पर जगह-जगह किस करना शुरू कर देती हूं। 

हम दोनों एक दूसरे को पागलों की तरह किस कर रहे होते हैं वह धीरे धीरे मेरे को उसके ऊपर से किस करना शुरू कर देता है और धीरे से मेरी ब्रा को उतार देता है। फिर से मुझे किस करना शुरू कर देता है और मेरे बूब्स को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर देता है वह मेरे एक बूब्स को पूरे मुंह में लेकर चूसता है जिससे मुझे पूरा मजा आता है। 

मैं – आाााहहहह… आााा… औौौ… औौौौ… आाााऊ… 

की आवाज निकालने शुरू कर देते हैं। मैं आकाश की लोर उतारती हूं और उसके लंड को चूसना शुरू कर देती हूं मैं उसके लंड को एकदम मस्त तरीके से चुस्ती हूं। उसके लंड के टोपे पर जीभ से चाट़ना शुरु कर देती हूं उसके टटो को खाना शुरु कर देती हूं उसके लंड के टोपे को चाटने में मुझे बहुत मजा आता है। जिससे आकाश को भी बहुत मजा आ रहा होता है वह गांड उठा उठा कर चुसवा रहा होता है।

अकाश – आाााहहहह आाााहहहह आााा चुसो ईसे और जोर से चुस बहुत ही मजा आ रहा है… आाााहहहह आाााहहहह आााा ऐसा… मुझे… तुझसे लंड चुसवाने का टाइम आता है… आाााहहहह! आाााहह!

फिर मैं आकाश के लंड को पूरा भर भर कर चुप कर देती हूं आकाश एक हाथ से मेरे बूब्स के गाने को मुसलमान होता है वह मेरे बूब्स के दाने के आसपास अपनी गर्लफ्रेंड शुरू कर देता है जिससे मुझे बहुत मजा आना शुरु हो जाता है।

फिर मैं लोर उतारकर उसके लंड के ऊपर बैठ जाती हूं मैं उसकी पूरी लंड को अपनी चूत में एक ही बार मे पुरा अंदर ले लेती हूं और उसकी लंड के ऊपर बैठकर अपनी गांड को घुमाने लग जाती हूं आज आकाश मजे के सातवे आसमान पर था।

आकाश – आाहहहह हहहह आााा हहहहआााा

मैं उसके ऊपर लेट कर उसको किस करना शुरू कर देती हूं वो एक हाथ से मेरा बुबस मसलता और दूसरे हाथ से मेरी गांड सेहला रहा होता है। बाद में, मैं अपनी दोनों टांगों को नीचे करके उसके लंड के ऊपर कूदना शुरू कर देती हूं।

मै – आाााहहहहह औौौ आााा हहह ययययय यययााााा! चोदो मुझे और जोर से चोदो मुझे… बहुत मजा आ रहा है फक मी प्लीज… फक मी मॉर चोदो… जोर से चोदो।

आकाश मुझे वह जोर-जोर से चोदना शुरू कर देता है वह अपनी गांड को उठा उठा कर मुझे चोदता है उसके लंड आगे पीछे करने से मेरी चूत का मांस बाहर अंदर बाहर हो रहा होता है। मुझे भी बहुत मजा आ रहा होता है, Antarvasna Ki Kahani पढ़ने ने से भी ज्यादा मज़ा रहा रहा होता है चरम सुख की प्राप्ति हो रही है।

और से जब उसका माल झड़ने वाला होता है तो मैं उसके लंड को अपने मुंह में लेकर चूसना शुरु कर देती हूं।

जब उसका माल निकलता है,उसके सारे माल को मैं अपनी पूरे फेस पर लगा लेती हूं जैसे क्रीम लगाती हैं जिससे मेरे चेहरे पर बहुत ही निखार निकाल जाता है वह चमकना शुरू हो जाता है।

अकाश – ऐसा मजा मुझे कभी नहीं आया अगर तुम चाहो तो आज मुझसे कुछ भी मांग सकती हो मैं तुम्हें कभी मना नहीं करूंगा।

मैं – तो फिर प्रॉमिस करो आज के बाद तुम मेरी मेरी मां को कभी नहीं चोद़ोगे जब तक मैं ना बोलूं।

अकाश – अगर तुम मुझे ऐसे ही चूत देती रहोगी तो मैं उसको हाथ भी नहीं लगाऊंगा।

मैं – यह तो तुम्हारे लिए ही बनी है मेरी जान

अकाश – ओके!

चुदाई के 20 दिन बाद मुझे मेरे कमरे में कुछ सेक्सी आवाजें सुनाई देती है जो मेरे साथ वाले कमरे से आ रही होती हैं मेरे डैड कुछ दिनों के लिए बाहर गए हुए थे।

मेरी माँ सेक्स स्टोरी को पढ़ते हुए अपनी चूत में उगली कर रही होती है… वह जोर-जोर से आाााहहहहह औौौ आााा हहह आ आ आ अम्म अम्म उह्ह… येह… की आवाज निकाल रही होती है जिसको सुनकर मुझे भी सेक्स चड़ जाता है वह इतनी जोर जोर से आवाज निकाल रही होती है कि पूरे घर में उसकी आवाजें गूंज रही होती हैं।

जब मैं उनके कमरे के बाहर जाती हूं तो देखती हूं वह अपने बड़े से डिलडो को अपनी चूत के अंदर बाहर कर रही हैं और पूरा मजा ले रही है मुझे उन पर तरस भी आता है और गुस्सा भी पर मुझसे अपनी मां की यह बेचैनी देखी नहीं जाती।

मां – मुझे देखते ही चादर अपने ऊपर देती है और कहती है तुम यहां क्या कर रही हो ??

मैं – आप मेरी छोड़ो आप यह बताओ आप यह सब क्या कर रही हो

मां – नीचे की तरफ देखना शुरु कर देती है और मैं उनके पास जाती और कहती हूं

मैं – मां आप शरमाओ मत आप कुछ भी गलत नहीं कर रही मुझे आपके और अकाश के बारे में सब कुछ मालूम है अगर आप चाहो तो मैं आकाश को आपके लिए फिर से मना सकती हूं।

मां – तुम उसे कैसे मना सकती हो ?

मैं – क्योंकि मैंने ही उसे आपसे मिलने के लिए रोका है अगर वह मेरे कहने पर रुक सकता है तो आ भी सकता है लेकिन मेरी एक शर्त है! 

आगे से आप मेरी कोई भी शिकायत डैडी से नहीं करेंगे और मैं जैसे जिंदगी जीना चाहूंगी जिऊंगी आप मुझे कभी भी किसी चीज के लिए रोकेंगे टॉकेगी नहीं।

मां – मुझे सब मंजूर है बेटा बस प्लीज मुझे आकाश से मिलवा दे,यह चूत की गर्मी मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रही!

मैं आकाश को फोन करती हूं और अकाश 10 मिनट में हमारे घर पर आ जाता है। मैं आकाश को सीधा मां के पास ले जाती हूं आकाश को देखकर मेरी मां बहुत ही खुश हो जाती है और मेरी मां को देखकर आकाश भी खुश हो जाता है।

मैं आकाश के सिर को पकड़कर धीरे-धीरे मां की और लेकर जाती हूं और दोनों को किस करवाना शुरू कर देती हूं, वह दोनों बहुत ही मस्ती में किस कर रहे होते है। 

मैं अपने लिप्स भी उन दोनों के लिप्स के साथ जोड़ देती हूं अब हम तीनों एक साथ किस कर रहे होते हैं कभी आकाश मुझे चुस रहा है,मैं मां की चुस रही हूं मां आकाश को चुस रही है मां मेरे चूस रही है बस तीनों लिप्स एक दूसरे को लगातार किस कर रहे होते हैं।

मैं जल्दी से अकाश के कपड़े उतार देती हूं खुद के भी कपड़े उतार देती हूं आकाश जल्दी से जाकर अपने लंड को मेरी मां की चूत में लगा देता है और उसे चोदना शुरू कर देता है। 

मैं अपनी चूत को मां के मुंह पर रख देती हूं मेरी मां मेरी चूत चूस रही होती है,और मैं और अकाश आपस में किस करते होते हैं उधर अकाश मेरी मां की चूत को चोद रहा होता है। 

यह सीन आप सोच भी नहीं सकते कितना मजेदार होगा बाद में मैं खड़ी हो जाती हूं आकाश मेरी चूत को चूसना शुरू कर देता है और एक तरफ मेरी मां की चूत को चोद रहा होता है।

मै – आााा आ आ आ अम्म अम्म उह्ह येह। 

मां – फक मी प्लीज चोदो मुझे और जोर से चोदो… फक मी प्लीज… फक मी… 

आकाश मेरी चूत के लिप्स को अपने मुंह के अंदर भीच लेता है जिससे मेरी जान निकलने बाली हो जाती है वह अपनी जीभ को मेरी चूत के बिल्कुल अंदर डाल देता है, और मेरी चूत के लिप्स को अपने दांत उसे काट रहा होता है।

फिर मैं और मां दोनों आकाश के लंड को बारी-बारी से चूसना शुरू कर देते हैं एक बार मां चुस्ती है और एक बार मैं, कभी कभी हम दोनों एक साथ उसके लंड पर जीबी मारना शुरू कर देते हैं। गौरव बीच-बीच में हम दोनों एक दूसरे को किस कर रहे होते हैं आकाश को बहुत मजा आ रहा होता है।

अकाश -हहहह हाााा हहहहााा आाााा

मैं आकाश के लंड के ऊपर वेठती हूं और उस पर कुदना शुरु कर देती हूं और आगे से मेरी मां मेरी चूत चाट रही होती है। ऐसे ही लगातार 10 मिनट अकाश मुझे चोदता रहता है। उसने माँ और बेटी को चोदा खूब कामुकता से। बाद में मेरी मां को घोड़ी बनाकर उसकी गांड में लंड डाल देता है और उसकी ताबड़तोड़ चुदाई करना शुरू कर देता है।

इस बार आगे से मैं और मां किस कर रहे होते हैं,पीछे से अकाश मेरी मां को चोद रहा होता है मेरी मां की सेक्सी आवाजें सुनकर मुझे बहुत सुकून मिलता है। 

(जिस चीज के लिए मेरी मां 15 दिन से तड़प रही थी आज आखिरकार उसे वह चीज मिल गई वह भी अपनी बेटी की बदौलत)

कहानी सुमन ([email protected]) द्वारा भेजी गई और रोहित कुमार द्वारा लिखित। कहानी कैसी लगी कमेंट करके प्लीज जरूर बताना यह आप ([email protected]) रिप्लाई कर सकते हो।

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
12.6k
+1
9k
+1
6.8k
+1
2.3k
+1
16
+1
164

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.