/ / माँ की अन्तर्वासना – एक सेक्सी आत्मकथा🔥💜(Part-2)
Aunty Sex Story Bhabhi Sex Story Couple Sex Story Desi Sex Story Family Sex Story First Time Sex Story Girlfriend Sex Story Hindi Sex Story Maa Beta Sex Story Porn Story Romantic Sex Story XXX Story

माँ की अन्तर्वासना – एक सेक्सी आत्मकथा🔥💜(Part-2)

अब तक आपने इस माँ की अन्तर्वासना आत्मकथा में पढा मेरी माँ ने केसै सील खुलवा ली थी अब आगे दोस्तो मेरी मम्मी का नाम बताना तो आपको भूल ही गया था मेरी मम्मी का नाम संतोष है। मम्मी चुदाई करवाने के दो दिन बाद तक खान साहब के पास नही गयी रात को दूध देने ओर दो दिन बाद खान साहब ट्रक लेकर पंजाब चले गये। 

यह कहानी गजब की, कमल की, सेक्सी आत्मकथा का दूसरा भाग है, इस सीरीज को पढ़ते रहिये और कहानी आपको  अलग ही स्तर का आनंद देगी। 

⚠क्योकि ये कहानी सच्ची घटनाओ और हकीकत पर आधारित एक माँ की आत्मकथा की Mummy Sex Story है जिससे उनका बेटा स्वन सुना रहा है, 

तो कहानी को पूरा पढ़े

खान साहब के जाने के दो दिन बाद मम्मी की चुत का सोजन खत्म हो गया ओर खुजली चालू हो गयी थी अब मम्मी खान का बेसब्री से इंतजार कर रही थी। ऊपर से बारिश का मौसम रातभर मम्मी करवट बदलती रहती आखिरकार पांच दिन बाद ट्रक लेकर खान पंजाब से लोट आया। उस दिन नानाजी भी आ गये थे मम्मी ने खान को गर्म पानी दिया नहाने को फिर खाना खिलाया। 

ओर रात होने का इंतजार करने लगे इधर जब मम्मी दिखाई देती तो खान अपना लंड खुजाने लगता देखकर, लेकिन शाम को ट्रक की बुकिंग हो गयी पंजाब की फिर से ये सुनकर मम्मी उदास हो गयी। मगर खान ने ये देखकर, 

नानाजी को कहा – वो कल गांव जाकर आएगा ईद पर भी घर नही जा सका था, 

तो नानाजी ने हा भर ट्रक लेकर नानाजी चले गये फिर मम्मी ने सभी काम जल्दी जल्दी कीये ओर रात होने का इंतजार करने लगे। रात होते ही नानीजी को दूध देकर वो खान के लिए दूध लेकर उसके कमरे मै पहुच गयी। कमरे मै पहुचते ही कुछ देर बाद बारिश शुरू हो गयी। 

उनकी चुम्मा चाटी के बीच मै ही ओर नानीजी आवाज लगाई तो मम्मी भागकर उनके पास पास पहुची नानीजी के कमरे मे मम्मी से छोटे दो भाई सो रहे थे ओर दो बहने दूसरे कमरे मै थी मम्मी ने उन्हे भी माँ के कमरे मे सुलाने ले गयी ओर नानी जी को कहा – मै खान चाचा के पास ही सो जाऊगी कहानी सुनकर, 

उन्हें क्या पता था खान इन्हे Antarvasna Story सुनाता है और गर्म करता है। इस तरह मम्मी सभी काम खत्म कर के मोमबत्ती लेकर भीगती हुई खान के पास पहुंच गयी कमरे की चिटकनी लगाते ही खान ने खडे होकर मम्मी को गले लगाकर कीस करना शुरू कर दिया। मम्मी चुत की खुजली से परेशान हो गयी थी ओर खान की बाहो मे जाते ही आग लग गयी। उनके बदन मै खान की हवस भी जाग गयी थी 7 दिनो से वो भी तडप रहा था, उसने संतोष को ऐसे दबोचा जैसे हिरण को शेर ओर उस पर टूट पडा। 

मम्मी ओर खान एक दूसरो को जोर जोर से चुमने लगे इस बीच खान ने अपने ओर मम्मी के कपडे खोल दिये ओर मम्मी के बोबो को जोर जोर से दबाने लगा फिर उसने एक हाथ कच्छी मै डालकर मम्मी की चुत मै उंगली डाल दी। उंगली डालते ही मम्मी की चित्कार निकल गयी। 

ओर वो खान के गले कसकर लग गयी खान ने मम्मी की चड्डी निकालकर फैक दी ओर सीने के पास सटाकर मम्मी की गांड को सहलाने लगा वो मम्मी की कान को चुसकर मम्मी की आग को भडका रहा था। ओर इसी बीच मम्मी ने अपने हाथो से बिना कहे खान के लंड को पकड लिया ओर, 

खान को कहने लगी – चाचा अब करो!! जल्दी रहा नही जाता इतना!! 

सुनते ही खान ने मम्मी को आज चारपाई पर झुका दिया पूरा मम्मी की गांड उभरकर उठ गयी थी खान ने अपने लंड बहुत सारा थूक लगाकर चुत पर लंड रखकर एक झटके मे आधे से ज्यादा लंड पेल दिया। आधा लंड एक झटके मै जाते ही मम्मी आगे निकल गयी ओर खान का लंड चुत से बाहर निकल गया, 

ये देखकर खान ने कहा – देख चुदना है तो थोडा दर्द सहना होगा, दो तीन बार वर्ना चली जा!! 

मम्मी ने तुरत ही माफी मांगने लगी ओर खान को कीस करने लगी खान भी समझ गया की अभी चुत नयी है तो उसने मम्मी को चारपाई पर सुलाकर गांड के नीचे तकिया लगाया। ओर मम्मी की टांगे ऊंची करवा ली फिर वापिस एक बार खान ने अपने 6 इच के लंड पर थूक लगाकर चुत पर सेट कीया ओर एक जोर के झटके से चुत मै आधे से ज्यादा लंड को पेल दिया। 

मम्मी की हालात फिर से खराब होने लगी मगर आज बिना समय दिये खान ने दूसरे झटके मै पूरा लंड मम्मी की चुत मै डाल दिया ओर मम्मी के होठो को चुसने लगा ओर बोबो को दबाने लगा दो मिनट मै मम्मी सामान्य हो गयी। ये देखकर खान ने दोनो टांगो को अपने हाथो से उठाकर लंड को जोरदार तरीके से अंदर बाहर करने लगा। 

पांच मिनट बाद मम्मी भी अपनी गांड उठाकर खान को सामने से झटके देने लगी ओर कुछ देर बाद मम्मी की चुत ने अपना रस छोड दिया। 

मगर खान अभी भी मम्मी की जोरदार चुदाई कर रहा था ओर मम्मी की चुत अब आराम से खान का लंड अंदर ले रही थी दस मिनट की जोरदार चुदाई के मम्मी की चुत ने दुबारा पानी छोडा, तो खान ने भी सात दिन का जमा माल भी खान ने मम्मी की चुत मै छोड दिया। दोनो पसीने पसीने हो रहे थे चुदाई के बाद 11 बज चुके, 

मम्मी ने कहा – मे पेशाब करके आ रही हू हम फिर सोएगे!! 

मगर खान का मन अभी भरा नही था 

मम्मी कपडे पहनने लगी तो खान ने कहा – चड्डी चोली अभी मत पहनना सलवार कुर्ता पहनकर पेशाब कर आओ ओर सभी अपनी मम्मी को देख आना!! 

मम्मी भी समझ गयी थी मम्मी हंसती हुई कमरे से बाहर गयी ओर पेशाब करके दस मिनट बाद कमरे मै आ गयी आते ही खान ने पकडकर उसे अपने ऊपर लिटा लिया। खान 6 फुट का लंबा चोडा मर्द था उपर से उसकी काली दाढी मम्मी को उपर लिटाकर अब वो मम्मी के होठो को चुसने लगा ओर मम्मी की पीठ ओर गांड को सहलाने लगा। 

🧡 इसे भी जरूर पढ़े – मेरी अम्मी जान रखैल थी!!

दोनो का खून गर्म था जवानी छलक रही थी मम्मी फिर से गर्म होने लगी खान सिर्फ कच्छे मै ही था उस समय उसका काला लंड फिरकर से तनकर तैयार हो गया। ओर मम्मी की सलवार मै घुसने लगा खान ने जल्दी से कपडे खोलने को कहा ओर मम्मी की चुत तो पहले ही तैयार थी बस कहने की देर थी मम्मी ने खान के ऊपर बैठे बैठै सलवार कुर्ता निकालकर फेक दिया। 

ओर अपने हाथो से खान का कच्छा उतार दिया ओर फिर अपने हाथो से खान के लंड को पकडकर हिलाने लगी खान ने मम्मी को अपने उपर खीच लिया ओर मम्मी को ऊंचा करके लंड को चुत पर सेट करके धीरे धीरे बैठने को कहा, मम्मी ने इसबार बिना गलती कीये धीरे धीरे दो बार मै पूरा लंड चुत मै ले लिया मम्मी को दर्द तो हो रहा था।

मगर दर्द से ज्यादा मजा भी आ रहा था खान ने फिर मम्मी को लंड पर उपर नीचे होने को कहा तो मम्मी धीरे धीरे ऊपर नीचे होकर लंड​ को चुत मै लेने लगी मगर मम्मी को मजा नही आ रहा था खान खिलाडी था। 

उसे पता लग गया ओर उसने तुरंत मम्मी को चारपाई पर लेटाकर खुद ऊपर चढ गया फिर उसने मम्मी की चुत को दस मिनट जोरदार तरीके से ठोका इस दौरान मम्मी की चुत ने दो बार रस निकाल दिया था। खान ने अपना वीर्य मम्मी की चुत मै डाल दिया ओर मम्मी की चुत की खुजली मिटा दी अब मम्मी ओर खान कपडे पहनकर एक दुसरे से लिपटकर सो गये थे। 

सुबह जल्दी उठकर खान गांव चला गया ओर मम्मी अपने काम मै लग गयी मगर अब मम्मी को रात मै लंड के बिना नींद नही आती खान ने कुछ दिनो मै ही मम्मी की चुत का भोसडा बना दिया ओर गांड ओर मम्मो का साइज बढा दिया था। खान हफ्ते मै दो तीन बार मम्मी की चुत को बजा ही देता था, 

🧡 इसे भी जरूर पढ़े – मम्मी को चोदा और मां बना दिया!!

“ओर ये बात खान के साथ गाडी पर रहने खलासी सुभाष कडेक्टर को पता लग गयी।” 

ओर उसने मोका देखकर मम्मी को चोद डाला हालाकि मम्मी उससे चुदवाना नही चाहती थी मगर मजबूरी मै एक बार उसको चुत देनी पडी खान ने मेरे नानाजी को शिकायत करके उसे नोकरी से निकलवा दिया। मेरी मम्मी की चाहत खान ही था खान मेरी मम्मी को अपने भाई की शादी मै अपने गांव ले गया तीन दिन वहा मम्मी की सलवार खुली ही रही खान ने अपनी बहु की सामने ही मम्मी को कमरे मै चोदने लगा। 

तो मम्मी कहने लगी – चाचा चाची जी है, वो क्या कहेगी?? 

तब खान ने कहा – इसे सब पता है ये मेरे मामा की लडकी है आज तो तुम आयी हो यहा खुलकर रहो तीन दिन यादगार हो जाएगे। 

फिर रात को खान ने अपने कमरे मै मम्मी की जोरदार चुदाई करी अगले दिन मम्मी के रहने की व्यवस्था खान के चाचा के घर हुई वो भी खान की उम्र का नौजवान था। जब दिन मै मम्मी ऊपर कमरे मै सो रही थी तो खान आ गया ओर​ मम्मी को कीस करने लगा खान के चाचा ने ये देख लिया ओर बाहर से ही आवाज लगाई ताकी खान ओर मम्मी को पता ना लगे। 

खान के जाते ही खान के चाचा मम्मी के कमरे मै पहुच गये ओर पूछने लगे – तुम्हारा नाम क्या है? 

मम्मी ने कहा – मेरा नाम संतोष है! 

तो खान के चाचा ने अपना नाम जावेद बताते हुए​ कहा संतोष तुम बहुत सुंदर हो अगर तुम पिछले साल आ जाती तो मै तुम्हे भागाकर ले जाता, तुम कहो तो आज भी मै तुम्हे भगा ले जाऊ। मम्मी तारीफ सुनकर खुश होने ओर कहने – ऐसा भी क्या है मुझमे!?! 

इतना कहते ही जावेद ने कहा – बता दिया तो गुस्सा करोगी ओर तो कुछ नही 

मम्मी ने कहा – गुस्सा नही करूगी बता दो चाचाजी 

जावेद ने कहा – दिल तोड दिया ना चाचा कहकर 

तो मम्मी ने कहा – चाचा ना कहूं तो क्या कहूं, जावेद कहो ना उम्र भर के लिए ना सही तीन दिन के लिए ही पती बना लो ओर हंसने लगा 

मम्मी भी उसकी बातो मै उलझ गयी थी जावेद ने मोका देखकर मम्मी का हाथ पकड लिया ओर चुमते हुए कहा – अब तो मर भी जाऊ तो गम नही ये सुनकर, 

मम्मी ने कहा – जावेद मरना नही है 

जावेद ने कहा – तो संतोष जिये तो कीसलिए तुमको देखकर जीने का मन तो है मगर तुम्हारे बिना नही मम्मी उसकी बातो मै आ गयी थी। जावेद ने मोका देखकर मम्मी के गालो को किस कर लिया मम्मी की खामोशी से ऊसे चुदाई की परमिशन मिल गयी। 

फिर जावेद ने बिना देरी कीये मम्मी के होठो को चुसना शुरू कर दिया इधर मम्मी की चुत की गर्मी तो आपको पता ही है जावेद पक्का खिलाडी था। उसने समय खराब नही कीया ओर सीधा सलवार खोलकर अपना लंड चुत मै पेल दिया मगर उसका लंड खान से छोटा था जावेद ने दस मिनट चोदकर मम्मी की चुत मै वीर्य डाल दिया। मम्मी की चुत इस चुदाई से ओर भडक गयी क्योकी मम्मी को खान पूरे मजे लेकर चोदता है खैर मम्मी ने खान को ये बात बता दी जिसके बाद खान ने मम्मी को अपने घर पर ही रखा। 

दरअसल मम्मी को वहा खान के एक मामा जो दिल्ली रहते थे वो पसंद आ गये थे इसलिए मम्मी घर पर आ गयी थी खान के मामा उनका नाम रोशन उम्र 35 साल की होगी तब मम्मी ओर रोशन मै आंखो के इशारे हो रहै थे, बात नही हो रही थी दोनो एक दूसरे को देखकर मुस्कराने लगे थे। 

रात को खान के घर पर बकरा आ गया दावत के लिए ओर ये देखकर मम्मी डर गयी जब उसको हलाल कीया तो खान के मामा रोशन ने मोका का फायदा उठाकर खान से कहा भांजे मै इसी अपने गांव ले जाऊ वेसे भी यहा जगह नही है। 

🧡 इसे भी जरूर पढ़े – मम्मी की सहेली की चुदाई

मै भी आराम करके आ जाऊगा कल शाम तक खान ने मम्मी से पूछा तो मम्मी डरी हुई ही थी तो जल्दी से हा कर दी जब तक मम्मी को पता नही था दिल्ली वाले रोशन मामा का गांव यही है खैर दो कोस मतलब 6 किलोमीटर चलकर मम्मी रोशन के घर पहुची तो वहा ताला लगा था, 

मम्मी ने कहा – रोशन अब क्या होगा 

रोशन ने – चाबी तो हमारे पास ही है डरो मत घर जाकर 

मम्मी पिछे पेशाब करके आई रोशन दिवार के ऊपर से मम्मी को देख रहा था मम्मी को पता चला तो उन्होने भी लापरवाह होकर अपनी गांड के दर्शन करवा दिया। रोशन गोरी गांड देखकर पगला गया था उसका लंड उसकी पेट भाडने को तैयार हो गया था खैर, 

मम्मी ने आकर कहा – शाम हो गयी है सर्दी लगने लगी है मुझे जल्दी से खाना बना लेती हू फिर सो जाएगे 

रोशन ने कहा – खाना मै बनाकर खिलाऊगा आज 

मम्मी ने कहा – आपको आता है तो 

रोशन ने कहा – याद रखोगी तुम हाथ मुह धो लो फिर मै कपडे बदलकर खाना बना दूंगा मम्मी हाथ मुह धोकर आगन मै आकर चुल्हा जला दिया इतने मै रोशन पजामा टीशर्ट पहनकर आ गया तो 

मम्मी ने कहा – मामा जी मे आटा लगा देती हू आप सब्जी बना लो 

रोशन ने कहा – ठीक है मम्मी जब आटा लगा रही तो उनके बोबो को देखकर रोशन का लंड पजामा फाड़कर बाहर आने को तैयार हो गया था इसी बीच रोशन के विशाल लंड को देखकर मम्मी की चुत मै खुजली होने लगी मगर मम्मी चुप रही, 

मम्मी ने आटा लगाकर कहा – मामाजी कितनी देर ओर लगेगी?! आपको मै तो तैयार हू 

तो रोशन ने कहा – संतोष मै भी कल से तैयार हू बस संतोष ने कहा बस क्या मामाजी कहो ना रोशन तुम मुझे मामाजी मत कहो रोशन कहो फिर बात करेगे। 

ऐसे बात करते करते रोशन ओर मम्मी ने खाना बनाकर खा लिया रोशन ओर मम्मी एक कमरे मे अलग अलग चारपाई पर लेटकर बात करने लगे इधर मम्मी की चुत मै खुजली जोर से चल रही थी। मगर क्या करे वो उधर मामाजी दूर थे वो केसै शुरू करे सोच रहै थे तभी रोशन ने कहा संतोष तुम्हे डर नही लगता है तो मै दूसरे कमरे मै सो जाऊ तुम यहा आराम से सो जाओ अकेली। 

तभी मम्मी ने कहा मामाजी आप अपनी चारपाई मेरी चारपाई के पास लगाकर सोओ मुझे रात मै बहुत डर लगता है ये सुनकर रोशन ने तुरत अपनी चारपाई मेरी मम्मी की चारपाई से चिपा दी हंसते हुए कहने लगा – संतोष अब भी डर लग रहा है 

तो मेरी चारपाई पर आ जाओ मेरी रजाई ओर चारपाई बहुत बडी है, 

इतना सुनते ही मम्मी बिना मोका गवाया रोशन की चारपाई पर पलट गयी ओर रजाई खोलकर रोशन के साथ घुस गयी रोशन ने मम्मी को पास चिपका लिया, 

ओर कहा – रजाई को चारो तरफ से दबा लो ताकी सर्दी कम लगे 

ओर कहकर वो मम्मी के साथ चिपक गया रोशन 35 साल का 6 फुट​ का स्मार्ट लोडा था क्लीन शेव लंबे बाल गोरा रंग मम्मी के चिपकते ही रोशन के लंड ने हरकत शुरू कर दी। रोशन ने धीरे से अपने पजामे को नीचे सरका दिया जिससे लंड बाहर निकल जाए रोशन ने कपडे बदलते वक्त ही कच्छा उतारकर फैक दिया था। 

पजामा नीचे करते ही लंड को सीधा करके उपर कर दिया ओर एक हाथ मम्मी की कमर पर डालकर सहलाने लगा मम्मी की गर्म आहे निकलने लगे, रोशन मम्मी की ऐसी ही चुदाई करने वाला था मै मम्मी की Desi Sex Stories मे पढ़ता था, फिर रोशन ने धीरे से अपने होठो को मम्मी के होठो से सटा दिया होठो के लगते ही दोनो पागलो की तरह एक दूसरे के होठो को चुसने लगे। 

मम्मी ने शाम को जब रोशन को गांड दिखाई थी तब ही रोशन से चुदने की ठान ली थी ओर कपडे बदलते समय मम्मी ने अपनी चडी चोली खोल दी थी रोशन ने जैसे ही सुट मै हाथ डालकर बोबो को छुआ, 

तो कहने लगा – तुम भी तैयारी कर के आई हो 

तब मम्मी ने कुछ – नही कहा ओर अहै भरनी लगी 

रोशन ने कुर्ता ओर सलवार उतारकर मम्मी को नंगा कर दिया रोशन शहर से आया था वो शहरो की तरह मम्मी के अंगो को चाट रहा रोशन ने जैसे ही मम्मी की चुत पर मुह रखा, तो मम्मी ने मना कर दिया रोशन भी मान गया रोशन ने चुत का जायजा लेने दो उंगली चुत मै डाली, तो उंगली बिना कीसी रूकावट के चुत मै घुस गयी। 

तो रोशन ने पूछा – कितने लंड खा लिये है मेरी संतोष ने 

तो मम्मी ने कहा – आपके भांजे मोहम्मद खान ओर उसके चाचा जावेद के बाद तीसरा है दो दिन मै उससे पहले चार लंड खाए है बस 

रोशन कहने लगा – कितने लंड खाओगी जान नाम संतोष है मगर संतोष है ही नही, 

तो मम्मी हंसने लगी – अभी तो शुरुआत हुई है सो तो खाऊगी पक्का 

इसबीच उंगली करने से मम्मी की चुत ने कामरस छोड दिया था रोशन उंगली पर लगा कामरस चुस गया ओर बगल मै लेटकर मम्मी के बोबो को सहलाने लगामम्मी रोशन ने एक हाथ पकडकर मम्मी को अपना लंड पकडवा दिया मम्मी ने जैसे ही रोशन का लंड पकडा वैसै ही मम्मी को झटका लगा। 

रोशन का लंड था तो वही 6 से 7 इंच का मगर मोटाई मुसल जैसी थी मगर मम्मी खुश हो गयी ये सोचकर चलो इसकी खुजली तो मिटेगी लंड को हिलाते हिलाते मम्मी की सांसे गर्म हो गयी ओर लंड को जोर से दबाने लगी। रोशन समझ गया चुत गर्म हो चुकी है दुबारा रोशन मम्मी के ऊपर आ गया ओर लंड चुत पर सेट करके लंड को चुत मै पेलने लग गया मम्मी टोपा अंदर जाते ही छटपटाने लगी। 

🧡 इसे भी जरूर पढ़े – 🔥Hot Collection of Family Sex Kahani

रोशन ने दूसरे झटके मै लंड आधे से ज्यादा अंदर चला गया मम्मी दर्द से चिल्लाह उठी मगर वो आवाज कोई नही सुनने वाला था रोशन ने तीसरे झटके मे लंड पूरा घुसा दिया चुत मै, मम्मी के आंखो मै आज दुबारा आंसू आ गये। रोशन ने मम्मी के होठो को चुसना चालू कर दिया ओर बोबो को दबाने लगा कुछ देर मै मम्मी ठीक हुई। 

तो रोशन ने फिर से लंड बाहर निकालकर एक झटके मै पूरा चुत मै डालकर मम्मी की चीख निकाल दी रोशन बेरहमी से मम्मी की चुदाई करने लगा ओर मम्मी को भी इस चुदाई मजा आने लगा मम्मी अब रोशन को सामने झटके देने लगी गांड उठाकर दस मिनट की जोरदार चुदाई के बाद मम्मी ने दूसरी बार पानी छोड दिया। 

मम्मी का शरीर शांत हो गया मगर रोशन का अभी हुआ नही था ओर रोशन एक बार मम्मी के पास लेट कर मम्मी के बोबो को सहलाने लगा कान को खाने लगा गर्दन पर कीस करने लगा पांच मिनट की कोशिश मे मम्मी फिर गर्म हो गयी। ओर रोशन को ऊपर ले लिया इस बार दस मिनट की चुदाई के बाद दोनो ने कामरस एकसाथ छोड दिया मम्मी ओर रोशन यूही नंगे एक दूसरे से लिपटकर सो गये।।।

Story to be continued…

तीसरे भाग का इंतेज़ार करे, कल ही आ रहा है।

तो आप लोगो को कैसी लग रही है मेरी Maa Ki Antarvasna Kahani आत्मकथा, मुझे कमेंट करके जरूर बताये। ये Porn Story in Hindi बिलकुल असली घटनाये है और हकीकत के बाटे है, यदि आपको कुछ पूझना है तो कमेंट करे, मेँ  रिप्लाई दूंगा।    

What’s your Reaction?
+1
2
+1
5
+1
0
+1
0
+1
0
+1
2
+1
1

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *