/ / मामा और भांजी की चुदाई
Desi Sex Story Family Sex Story First Time Sex Story Hindi Sex Story Porn Story Romantic Sex Story XXX Story

मामा और भांजी की चुदाई

मामा कुछ दिनों के लिए हमारे घर पर आए थे और मुझे चोद कर चले गए। इस कहानी को पूरा पढ़ें और जानें  कैसे हुई मामा और भांजी की चुदाई?! मेरा नाम दीपांशी है और मैं लखनऊ की रहने वाली लड़की हूं। यह मेरी अंतर्वासना Family Sex Story है जो मैं आप लोगों को सुनाने जा रही हूं।

मैं एक खूबसूरत जवान लड़की हूं जिसे बॉडी वाले लड़के बहुत पसंद है। लॉकडाउन लगने की वजह से मैं घर पर ही रहती थी क्योंकि स्कूल बंद थे और ऑनलाइन क्लासेस होती थी।

अचानक एक दिन मेरे मम्मी के भाई हमारे घर पर आ गए कुछ दिनों के लिए रहने के लिए। वह जब पहली बार हमारे घर आए थे तो पहली नजर में ही उन्हें देखते ही मुझे उनसे प्यार हो गया।

मामा जी इतने ज्यादा हैंडसम हॉट और अच्छी खासी बॉडी वाले आदमी थे। जिनको देखकर मैं बहुत ज्यादा गरम हो गई थी।

मामा जी ने मुझे देखते ही बोला अरे दीपांशी तुम तो कितनी बड़ी हो गई हो। मैंने कहा – तो क्या हमेशा बच्ची रहूंगी मामा जी मेरा सब कुछ बड़ा हो गया है

मामा जी मेरे इस डबल मीनिंग वाले मजाक को समझ गए और उन्होंने मुझे देख कर मुस्कुराया और कहा – तुम काफी बड़ी हो गई हो।

मम्मी ने कहा – आओ मामा जी को अपना बड़ा रूम दिखा दू!!!

मैंने कहा – लिया चलिए मामा जी मेरा हाथ पकड़ लिया और मैं आपको अपने कमरे में ले चलती हूं। मतलब आपके कमरे में ले चलती हूं!!

मैंने मामा जी को उनके कमरे पर छोड़ दिया और कहा – मामा जी अगर आपको किसी भी चीज की जरूरत हो तो मुझे बता देना।

उन्होंने कहा – ओके! थैंक यू दीपांशी!!

मैं अक्सर मामा जी से मजाक किया करती थी और उनके साथ चिपकने के बहाने ढूंढती रहती थी। मैं मामाजी के पास अपने स्कूल के सवाल ले जाती थी और कहती थी मुझे यह समझ नहीं आ रहे हैं।

तो मामा जी मुझे समझाने लग जाते थे तो मैं बहाने मार मार के उनसे चिपकती थी। मामा जी को धीरे धीरे एहसास होने लग गया था कि इस लड़की के इरादे सही नहीं है।

लेकिन आखिर है तो वह भी मर्द और कहीं ना कहीं उन्हें भी मजा आ रहा था आफ्टरऑल में इतनी ज्यादा हॉट सुंदर जवान लड़की जो थी।

हम जब साथ में टेबल पर बैठकर खाना खाते थे तो मैं मामा जी को नीचे से पैर लगा दी थी। और मामा जी मुझे हैरानी से देखने लग जाते थे लेकिन मैं उन्हें बड़ी ही वासना भरी नजरों से देखती थी।

अगली सुबह मामा जी नहा रहे थे और वह अपना तोलिया भूल गए, तो उन्होंने कहा दीदी मेरा तौलिया ला देना।

लेकिन मम्मी घर पर थी नहीं वह बाजार गई हुई थी सामान लेने के लिए। तो मैं तो लिया लेकर मामा जी के कमरे में चली गई।

मामा जी ने थोड़ा सा दरवाजा खोल कर अपना हाथ बढ़ाया और कहा लाइए दीदी मुझे तोलिया दे दीजिए। मैं उन्हें तो लिया पकड़ा ही रही थी कि अचानक से मेरा हाथ लग गया और दरवाजा खुल गया।

मैंने मामा जी को पूरा नंगा देख लिया उनकी शानदार बॉडी उनके सिक्स पैक एब्स और उनके जांग कितनी ज्यादा हॉट थी।

मामा जी बहुत ही ज्यादा डर गए और उन्होंने मेरे हाथ से तो लिया खींच कर अपने लपेट लिया।

और बोले – तुम यहां क्या कर रही हो मैंने दीदी से तो लिया मांगी थी। तुम्हें बिल्कुल भी तमीज नहीं है ऐसे नहीं करना चाहिए।

मैं तो मामा जी को देखकर गर्म हो चुकी थी और बहुत ही ज्यादा सेक्सी फील करने लग गई थी। मैं वासना भरी नजरों से उनके पास जाती रही धीरे-धीरे और कहा – गलती माफ कर दीजिए मामा जी!!!!!

मैं धीरे-धीरे उनके इतने पास चली गई कि हम दोनों के होठों के बीच में बस 2 इंच का फासला था। मामाजी गर्म गर्म सांसे छोड़ने लगे और मेरी भी गर्म गर्म सांसे निकलने लगी।

मामा जी बोले – इतने पास मत आओ..

यह सही नहीं है!!!

मैंने कहा – कुछ भी गलत नहीं है सब कुछ सही हो रहा है!! मैंने मामा जी को इतना ज्यादा टीस कर दिया था कि वह पूरे गर्म हो चुके थे।

और फिर मामा जी ने मेरे होठों पर किस कर दी और मुझे अपनी बाहों में ले लिया। मामा जी फिर मुझे चूमने लगे और मेरे गालों  पर पप्पी लेने लगे।

और बोलने लगे – तुम बहुत ही ज्यादा शरारती लड़की हो!!!

मैंने कहा – मैं शरारती लड़की हूं लेकिन ऐसा मैं सिर्फ आपके साथ ही महसूस करती हूं।

मामा ने कहा – ऐसा मत करो यह गलत है सब कुछ गलत हो जायेगा

मैंने कहा – Antarvasna में कुछ भी गलत और सही नहीं होता मैं तैयार हूं मामा जी…

मामा जी ने मुझे और कस कर अपनी नंगे बदन में जकड़ लिया और मुझे इधर उधर चूमने लगे। देखते-देखते उन्होंने मुझे भी नंगा कर दिया और मेरे गोरे बदन को हाथ लगाने लगे उसे सहलाने लगे।

मेरे बूब्स को दबाने लगे मेरी बड़ी गांड को वह दबाने लगे और मेरी चूत में उंगली करने लगे। मेरी चूत बिल्कुल गीली हो चुकी थी क्योंकि मामा जितने ज्यादा हॉट है मैं बहुत ही ज्यादा गर्म और सेक्सी मेहसूस कर दी थी।

हे मामा जी ने मुझे बिस्टेर के ऊपर लेटा दिया और मेरे ऊपर चढ़ गए, और Mama aur bhanji ki chudai चालू हो गई। वह मेरे साथ बहुत ही रोमांटिक सेक्स कर रहे थे जिसमें बहुत ज्यादा मजा आ रहा था।

फिर उन्होंने अपना बड़ा मोटा लंड निकाला और धीरे-धीरे मेरी छोटी सी चूत पर रगड़ने लगे।

मैंने कहा – अब बस मामा जी अब इतना मत तड़पाओ

और उन्होंने मेरी चूत में अपना लंड घुसा दिया और मेरी चुदाई करने लगे।

मै – आ आ अहह अम्म अम्म आ आ आह

मामा जी अपनी मर्दाना ताकत से मिले खूब संतुष्टि भी रहे थे और मेरी वासना की आग को बुझा रहे थे। मुझे चोदते चोदते वह मेरे बड़े बूब्स पर दबा रहे थे और मुझे साथ में किस भी कर रहे थे।

वह मुझे बहुत ही रोमांटिक अंदाज में चुंबन कर रहे थे और बड़े ही प्यार से मेरी चुदाई कर रहे थे। हम दोनों एक दूसरे के प्यार में डूबे हुए थे हम दोनों कामवासना की आग में जल रहे थे।

और फिर कुछ ही देर में मामा जी का झड़ने वाला था उन्होंने अपना लंड बाहर निकाल कर अपना सारा वीर्य मेरे पेट के ऊपर झाड़ दिया। और मुझे भी चरम सुख की प्राप्ति हो गई थी मैं बहुत जोर जोर से सांस भर रही थी।

मामा जी भी बहुत जोर जोर से सांसे ले रहे थे और हम दोनों सिर्फ एक दूसरे के साथ नंगे चिपक कर लेट गए। मामा जी बोले – मैंने तुम्हारे जैसी लड़की आज तक नहीं देखी, काश मैं तुम्हारे साथ शादी कर पाता

मैंने कहा – हम दोनों जानते हैं यह मुमकिन नहीं है लेकिन फिर भी हम एक दूसरे को प्यार तो कर सकते हैं।

और फिर इसके बाद मामा जी दोबारा अपने शहर चले गए लेकिन उन्होंने बीच-बीच में लखनऊ आना शुरू कर दिया। बाकी तो आप लोग समझदार हैं ही!!!!

तो कैसी लगी आप लोगो को दीपांशी की परिवार में चुदाई वाली Hindi Sexy Story. उम्मीद है अपने हिलाया जरूर होगा अगर हां तो इस कहानी को शेयर करे। और आप हमें भी अपनी Hot Sex Story भेज सकते जैसे और कई सारे प्यारे लोग भेजते है।     

आपको कहानी कैसी लगी?
+1
1
+1
0
+1
3
+1
0
+1
0
+1
0

Similar Posts